AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 16 मई 2017

तहसील दिवस मे 201 मामले आये सिर्फ 10 का हुआ निस्तारण

फतेहपुर, शमशाद खान । शासन की मंशा के अनुरूप आम जन मानस को शासकीय योजनाओं का लाभ दिलानें एवं जनता की समस्याओं को सुनने तथा अधिकारियों द्वारा उन समस्याओं को प्राथमिकता से एवं त्वरित निस्तारण के लियेे तहसील समाधान दिवस का आयोजन खागा तहसील मे जिलाधिकारी मदनपाल आर्या की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुआ। तहसील समाधान दिवस मे राजस्व, पुलिस,, स्वास्थ्य, सिंचाई, वृद्वावस्था, विकलांग, समाजवादी पेंशन, शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, पुष्टाहार, समाज कल्याण, लोक निर्माण विभाग, पुलिस, वन, चकबन्दी, स्वच्छ पेय जल, उद्यान, रेशम, मत्स्य, राशन वितरण, विद्युत, लघु सिंचाई, कृषि, विद्युत आदि विभागो से सम्बन्धित कुल 201 प्रार्थना पत्रों का पंजीयन किया गया जिसमें से 10 प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि तहसील दिवस के प्रार्थना पत्रों के प्रकरणों का निस्तारण गुणवत्ता पूर्वक किया जाये, राजस्व पुलिस विभाग की सयुक्त टीम मौके पे जा कर के निस्तारण की कार्यवाही सुनिश्चित करे । निस्तारण मे यदि कोई दिक्कत आती है तो उप जिलाधिकारी से सम्पर्क करे। जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 विद्युत को निर्देशित किया जिन नलकूपों के ट्रांसफार्मर खराब है, उन्हे एक सप्ताह के भीतर बदलवाया जाये। जिससे किसानों को सिंचाई हेतु पानी की समस्या न हो उन्होंने विभाग के अधिकारियों से कहा की जहाॅ-जहाॅ विद्युत पोल टेढे हैं और तार ढीलें हैं उन्हे भी जल्द ठीक करा लिया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि फरियादी का प्रार्थना पत्र पंजीकरण कर भेजा जाये तथा कोई भी लेखपाल व अधिकारी द्वारा फरियादी को तहसील समाधान दिवस मे रोका न जाये। जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि अधिकारी अपनी आदतों में सुधार के साथ.साथ कार्य में गति लायें । उन्होंने कहा की पिछली तहसील दिवस की प्रार्थना पत्रों का निस्तारण 3 दिन में कर लिया जाये। कोई भी अधिकारी अनुपस्थित नही रहेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रार्थना पत्रों को 15 दिन के अन्दर मौके पर जाकर निस्तारण की कार्यवाही सुनिश्चित कर उपजिलाधिकारी खागा को सूचित करे जिससे कि कम्प्यूटर मे फीडिंग का कार्य कराया जा सके यदि इस कार्य मे लापरवाही की गयी तो सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। प्रार्थना पत्रों मे गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जाये और प्रार्थना पत्र के निस्तारण के बाद फरियादी को सूचित किया जाये। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए है  मौके पर जाकर निस्तारण किया जाये । जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अभियन्ता को निर्देशित किया की जो ट्राॅसफार्मर जले हैं उन्हं तत्काल बदला जाये।जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों से कहा की अपने-अपने कार्यालयों की साफ-सफाई और पत्रावलियों का रख-रखाव सही रखें, उन्होंने जनपदीय अधिकारियों को निर्देश दिया की अपने-अपने विभागों में शिकायतों का रजिस्टर बनायें, उसमें शिकायतों का अंकन कर निस्तारण करें।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक कवीन्द्र प्रताप सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी वीके पाण्डेय, सीओ खागा अतुल चैबे, जिला विकास अधिकारी मिथलेश सचान, सहायक निदेशक मत्स्य ए0के0 शुक्ला, परियोजना अधिकारी अशोक कुमार निगम, अधि0अभि0 विद्युत, जल निगम, आरईएस सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट