AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 5 मई 2017

एडीएम का स्टैनो रिश्वत लेते विजलेन्स के हत्थे चढ़ा



फतेहपुर, शमशाद खान । जनपद के अपर जिलाधिकारी कार्यालय मे तैनात स्टैनों द्वारा स्टाम्प विक्रेता का लाइसेन्स बनाने के नाम पर अपने आवास मे बीस हजार की रिश्वत लेते समय मुखबिर की सूचना पर पहुंची विजलेन्स टीम इलाहाबाद ने रंगे हांथ गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किये गये स्टेनों को विजलेनस टीम ने जेल भेज दिया है।
जानकारी के अनुसार बिन्दकी तहसील के औंग थाना क्षेत्र के गंगचैली खुर्द गांव निवासी प्रेम प्रसाद के पुत्र प्रवीन कुमार ने अपर जिलाधिकारी राजस्व के यहां स्टाम्प विक्रेता का लाइसेन्स लेने के लिए आवेदन कर रखा था तथा वह कई बार अपर जिलाधिकारी कार्यालय के लाइसेनस प्राप्त करने के लिए स्टैनो मो0 शाहिद के पास चक्कर काट चुका था। स्टैनो न ेउसेस कहा था कि यदि लाइसेन्स लेना है तो बीस हजार रूपये का चढ़ावा चढ़ाना पडेगा किन्तु उसको क्या पता था कि प्रदेश मे सपा बसपा की सरकार नही बल्कि की योगी आदित्य नाथ की सरकार है और इस सरकार मे भ्रष्टाचार नही चलेगा। आज स्टैनो ने कचेहरी पुलिस चैकी के पीछे बने आवास मे प्रवीन कुमार को बुलाकर स्टाम्प विक्रेता का लाइसेन्स बनाने के नाम पर बतौर रिश्वत बीस हजार रूपया ले रहा था कि तभी इलाहाबाद की विजलेन्स टीम के प्रभारी निरीक्षक रामकुमार श्रीवास्तव, अभि सूचना संकलनकर्ता निरीक्षक महेन्द्र शुक्ला, निरीक्षक कपिल देव त्रिपाठी, निरीक्षक राम निहोर मिश्र, निरीक्षक सरोज कुमार सिंह, दीवान अशोक नारायन पाण्डेय, सिपाही कमलेश कुमार सिंह, श्रवण कुमार, अशोक कुमार शर्मा मौके पर पहुंच कर स्टैनों को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। घटना के सम्बन्ध मे कोतवाली मे स्टैनो के खिलाफ रिश्वत लेने के आरोप कर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। गिरफ्तार किये गये स्टैनों को पुलिस ने जेल भेज दिया है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट