AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 11 मई 2017

जलसंस्थान अधिकारियों को मण्डलायुक्त ने दिये निर्देश

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - गर्मी के दिनों में एक भी व्यक्ति प्यास न हरे, इसके लिये र्प्याप्त मात्रा में पेय जल व्यवस्था दुरूस्त कर ली जाये। जल संस्थान अपने संसाधनों का इस्तेमला बेहतर तरीके से करे ताकि जनता को किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पडे।
          उक्त निर्देश मुण्डलायुक्त पीके महान्ति ने पेयजल व्यवस्था के सम्बन्ध में अपने शिविर कार्यालय में समीक्षा के दौरान दिये। उन्होने कहा कि हर स्थित में जनता को पेयजल व्यवस्था मुहैया कराई जाये, इसिके लिये विभाग अपनी पूरी ताकत के साथ कार्य करे, कोई भी समस्या आने पर तुरंत अवगत कराये ताकि समस्या का निदान तत्काल कराया जा सके। बैठक में महा प्रबंधक जल संस्थान ने बताया कि जलापूर्ति की सभी व्यवस्था की जा चुकी है, नगर में अलग अलग माध्यमो से जनता के निरेन्तर जलापूर्ति की जा रही है। बताय कि जनपद के शहरी क्षेत्रों में जलापूर्ति की लगभग 520 मिलियन ली0 प्रतिदिन जरूरत है, इसके लिए वर्तमान में 430 मिलियन लीटर पानी सप्लाई की जा रही है। कहा सभी पंम्पिंग स्टेशन चालू है। नगर में 59 जलाशय है जिसमें 42 अवर जलाशय चालू है तथा 17 बद है, जिनके स्थान पर जेडपीएस बन गये ह ैअब इनकी उपयोगिता नही है। बताया कि नगर में कुल 14037 इउिरूा मार्का हैण्डपंप लगे है, रिबोर सम्बंध में शासन से धनराशि की मांग की गयी है, जल्दी ही इनको रिबोर करा दिया जायेगा। मण्डलायुक्त ने निर्देशित किया कि उनकी तरफ से धनराशि की मांग के लिय शासन को पत्र भेजा जाये ताकि समय से रिबोर कराके जनता को राहत दी जा सके। मण्डलायुक्त ने बताय कि सार्वजनिक नल नगर में 3400 है जिनमें सभी के सभी चालू हालत में हे। वहीं निर्देशित किया कि शहर में जितनी भी पेयजल आपूर्ति के साधन है उनकी सभी की निगरानी रखी जाये कोइ भी समस्या आने पर तत्काल टीमे लगाकर मरम्मत कराई जाये। बैठक में महा प्रबंधक तथा जल संस्थान के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट