AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 20 मई 2017

तीस शौचालय में दो दर्जन का कराया गया मानक विहीन निर्माण

फतेहपुर, शमशाद खान । भिटौरा विकास खण्ड के पूरेइलमास गाॅव में शासन की मंशा के विपरीत कराये गये विकास कार्याें की ग्रामीणों द्वारा की गयी शिकायत पर जिलाधिकारी के निर्देश पर जाॅच करने गये जिलापंचायत राज अधिकारी ने स्थलीयनि निरीक्षण करने के बाद ग्राम प्रधान को फटकार लगाते हुए कहा कि कराये गये विकास कार्याें में बहुत खामियाॅ हैं तथा इनको तत्काल दूर किया जाये अन्यथा परिणाम भुगतने को तैयार रहें। 
जिलाधिकारी मदन पाल आर्या के निर्देश पर भिटौरा विकास खण्ड के पूरेइलमास गाॅव में विकास कार्याें में हुई धांधली की शिकायत पर जाॅच करने गये जिलापंचायत राज अधिकारी ने देखा कि गाॅव के लिये ंशासन से तीस शौचालय बनवाये जाने के निर्देश ग्राम प्रधान को दिये गये थे। उसमें से मात्र चैदह सौंचालय बनवाये गये थे जिसमें उनका मानक के विपरीत कराया गया है। शौंचालय के निर्माण में मानक के विपरीत निर्माण कार्य कराया गया है। शौंचालय निर्माण में मानक की गुणवत्ता न पूरी होने पर जिलापंचायत राज अधिकारी ने नाराज व्यक्त करते हुए कहा कि इन शौंचालय निर्माण कार्य में शासन की मंशा के अनुरूप कार्य नहीं किया गया तो परिणाम गम्भीर हो सकते है उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि शेष पडे़ शौंचालयों का शीघ्र निर्माण कराया जाये गाॅव में लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व लगाये गये खड़न्जा को ग्राम प्रधान द्वारा उखाड़वाकर उसी ईंट से पुनः निर्माण करवा दिया गया तथा भुगतान नये ईंटों का कराया गया जबकि शासनादेश है कि किसी भी खड़ंजा का निर्माण दुबारा पाॅच वर्ष के पूर्व नहीं कराया जा सकता इस पर जिला पंचायत राज अधिकारी ने ग्राम प्रधान से स्पस्टी करण माॅगा है। ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए बताया कि गाॅव में विकास कार्य के नाम पर महज औपचारिकतायें पूरी की गयी है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट