AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

रविवार, 7 मई 2017

हमें मोक्ष दिलाने वाली प्रमुख नदिया खुद अपने अस्तित्व के लिए कर रही संघर्ष - योग गुरु श्रीमती नीलम गुप्ता

कानपुर, अवधेश मिश्र - आल मीडिया एंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने जीवन दायनी नदियों की ख़राब होती दशा के कारण नदियों और मानव के बीच बढती दूरियों को कम करने की दिशा के लिए #स्वच्छ_भागीरथी_अभियान की शुरुवात की गयी  जिसका लक्ष्य नदियों के घाट की सफाई कर मानव और नदियों के बीच सम्बन्ध स्थापित करना है  आमजा भारत के लक्ष्य को पूरा करने के लिए कई सामाजिक और सरकारी संस्थाओ ने  इस पुनीत कार्य में आगे आकर इस अभियान को गति प्रदान की, जिसमे से  श्री बाला जी ट्रेड मार्ट प्राइवेट लिमटेड, स्वदेशी बाजार, कानपुर योग  एसोसिएशन, महिला आशा ज्योति केंद्र, ओ आर जी एस कंप्यूटर, अबेकस किड्स अकादमी, फेडरिक पब्लिक स्कूल, आर के एजुकेशन सेंटर, एंद्रीय वेलफेयर फाउंडेशन, श्रेया फाउंडेशन आदि प्रमुख थे  इन सभी संस्थाओ के प्रमुखों ने आज सुबह कानपुर के सरसैया घाट पर जाकर
गंगा घाट की सफाई का जिम्मेदारी उठा कर घाट पर पड़ी प्लास्टिक और जल समाधी को डाले गए भगवानो की मूर्तियों को कचरे से अलग कर एक जगह एकत्र किया गया  योग गुरु श्रीमती नीलम गुप्ता ने यहाँ मौजूद सभी लोगो को शपथ दिलाई कि भविष्य में हम नदियों को गन्दा नहीं करेंगे, इस गंदगी के कारण हमें मोक्ष दिलाने वाली प्रमुख नदिया खुद अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही है   इस अभियान में प्रदीप बाजपेई, सर्वेश यादव, अर्जुन सिंह, विवेक तिवारी, समीर अस्थाना, अवधेश मिश्र, अक्षत मिश्र, नीरज तिवारी ( संपादक ), प्रवीण सिंह, अशोक दीक्षित, सुरेन्द्र जायसवाल, मनोज अवस्थी, श्री कृष्ण श्रीवास्तव, विवेक कुमार, मीना धर पाठक, उमेश यादव, राज कुमार आर्य, योग गुरु नीलम गुप्ता, देवेश गुप्ता, सौरभ शर्मा, सुशील मराल, अभिमन्यु गुप्ता, अरविन्द श्रीवास्तव, अनीता श्रीवास्तव, श्री कृष्णा श्रीवास्तव, रमा कान्त मिश्र,  समाज सेवी रश्मी श्रीवास्तव, रीना पाण्डेय, अभिजीत पाण्डेय, क्षितिज द्विवेदी, कृतिका द्विवेदी, डॉ क्षमा द्विवेदी, प्रियंका तिवारी (महिला आशा ज्योति केंद्र ) और आलोक कुमार मौजूद रहे                                          

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट