AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 16 अप्रैल 2018

अवैध सम्बन्ध को लेकर अर्जुन की हुयी हत्या, आरोपी गिरफ्तार

फतेहपुर, शमशाद खान । विगत दिनों साईकिल से घर जा रहे भट्ठा मजदूर की अज्ञात लोगों ने गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को नाले मे फेंककर फरार हो गये थे वहीं पुलिस अधीक्षक राहुल राज ने मामले को गंभीरता से लेते हुए घटना का खुलासा करने हेतु पुलिस टीम गठित की। आखिरकार पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए पांच दिन के अन्दर घटना का खुलासा करते हुए हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया। उधर पुलिस लाइन के सभागार मे पत्रकारों से वार्ता करते हुए पुलिस अधीक्षक ने घटना के सम्बन्ध पूरी जानकारी दी। जानकारी के अनुसार किशनपुर थानाक्षेत्र के ग्राम महावतपुर असहट पिपरहा डेरा निवासी अर्जुन 20 वर्ष जो ईंट भट्ठे मे मजदूरी करता था 10 अप्रैल की शाम वह अपने चार साथियों के साथ घर वापस आ रहा था बताया जा रहा है कि गांव के पहले ही मृतक अर्जुन व उसके साथियों ने दुकान मे सामान खरीदा और अकेले ही अर्जुन घर के लिए साईकिल से रवाना हो गया। इसी बीच अज्ञात लोगों ने उसकी अगौंछे से गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को नाले मे फेंककर फरार हो गये। जानकारी होने पर पुलिस अधीक्षक राहुल राज ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष को जल्द से जल्द घटना का खुलासा करने के लिए कड़े निर्देश दिये। साथ ही घटना से पर्दा हटाने के लिए कई टीमों का गठन किया गया। उधर पुलिस ने पांच दिन के अन्दर घटना का खुलासा करते हुए गांव के ही जुग्गीलाल उर्फ रामकिशोर पुत्र देवराज निषाद को हिरासत मे लेकर कड़ाई से पूंछतांछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। आज दोपहर पुलिस लाइन के सभागार मे पत्रकारों से रूबरू होते हुए पुलिस अधीक्षक राहुल राज ने बताया कि मृतक का अवैध सम्बन्ध जुग्गीलाल उर्फ रामकिशोर की पत्नी से था इसकी जानकारी इसे एक माह पूर्व हुयी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूंछतांछ के दौरान आरोपी ने बताया कि एक दिन अर्जुन उसी के सामने घर आया और कुन्डी बंद कर उसकी पत्नी के साथ सम्बन्ध बनाया। उधर पत्नी ने बताया कि वह जबरदस्ती घर आता है और उसके साथ नाजायज सम्बन्ध बनाता है। उन्होनें बताया कि इसी बात को लेकर उसने घटना को अंजाम दे दिया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस घटना का खुलासा करने वालों मे थानाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह, एसआई उमाशंकर यादव, हेड कांस्टेबिल रमेश मिश्र, कांस्टेबिल पंकज सिंह, अशोक कुमार, विजय कुमार व कां0 पृथ्वीराज मौजूद थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट