AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

रविवार, 8 अप्रैल 2018

तालाबों के अवैध कब्जों पर वैश्य समाज ने जतायी चिंता

फतेहपुर, शमशाद खान । अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद की मासिक बैठक मे प्रशासनिक लापरवाही के चलते तालाबों पर किये जा रहे अवैध कब्जों पर रोष व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी से मिलकर मामले को अवगत कराये जाने का निर्णय लिया गया।
रविवार को पीलू तले चैराहा स्थित कैम्प कार्यालय मे अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद की एक बैठक जिलाध्यक्ष रामस्वरूप गुप्ता की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुयी। जिसमे मुख्य अतिथि के रूप मे प्रदेश महासचिव विनोद कुमार गुप्ता ने शिरकत की। बैठक को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि प्रदेश महासचिव विनोद कुमार गुप्ता ने कहा कि प्रशासनिक लापरवाही के कारण जनपद के प्राचीनतम तालाबों का अस्तित्व समाप्त हो रहा है तालाबों पर भूमाफियाओं द्वारा जबरन अवैध कब्जा किया जा रहा है। प्रकृति के इन जलाशयों के नष्ट होने से पशु पक्षियों के सामने जीवन का संकट गहराने लगा है यदि इन तालाबों को बचाने के लिये पहल नही की जायेगी तो प्रकृति हमे कभी माफ नही करेगी। जिलाध्यक्ष रामस्वरूप गुप्ता ने कहा कि प्रकृति के इन जलाशयों का अतिक्रमण हटवाये जाने के लिए संगठन के पदाधिकारी प्रतिनिधि मण्डल के माध्यम से जिलाधिकारी से मिलकर अवैध कब्जों को हटाये जाने के साथ ही तालाबों के सौन्दर्यीकरण किये जाने की मांग किया जायेगा। इस मौके पर ट्रेडर्स एण्ड इण्ड्रस्ट्रीज वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राधेश्याम हरायण, गिरजा शंकर सोनी, दिलीप मोदनवाल, आशीष अग्रहरी, शिवकुमार गुप्ता, मनोज सोनी, अमित शरण बाबी, गुड्डू मोदनवाल आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट