AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 31 मई 2018

जिलाधिकारी ने दफ्तरों को तम्बाकू मुक्त करने की कर्मचारियों को शपथ लेने को कहा

फतेहपुर, शमशाद खान। विश्व तम्बाकू दिवस के अवसर पर जिला चिकित्सालय में गुरूवार को जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त की अध्यक्षता में गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमे जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को शपथ दिलाते हुए कहा कि सभी को अपने कार्यालय में तम्बाकू मुक्त कराके अपने देश को एक कदम आगे ले जाने की ओर बढ़ाये जिससे विश्व में लगभग प्रति वर्ष साठ लाख लोग इसके सेवन से अपनी जान गवांते है और लगभग नौ लाख भारतीय तम्बाकू सेवन से मरते है। इस तरह से कैंसर से मरने वाले सौ रोगियों में 40 तम्बाकू के प्रयोग से मरते है। अतः आज हमे यह शपथ लेनी चाहिये कि हमे अपने कार्यालय को तम्बाकू मुक्त कर अपने देश पे हो रहे इस जानलेवा हमले को जड़ से उखाड़ फेकना है जैसा कि आप लोगो को ज्ञात हो कि आज विश्व तम्बाकू दिवस में डब्लूएचओ की थीम टोबैको ब्रिक्स हार्ट के इस थीम से यह जानकारी होती है कि आज का युवा जो कि 25-35 वर्ष में ही हार्ट अटैक की शिकार होती चली जा रही है अतः हमे इस युवा पीढ़ी को तम्बाकू विष से अतिशीघ्र बचाने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि सिगरेट एवं अन्य उत्पाद के नियंत्रण के लिये समस्त स्वास्थ्य इकाईयों, सरकारी कार्यालयों एवं सार्वजनिक स्थानों को तम्बाकू मुक्त परिसर बनाने के लिये निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाये। उन्होने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से प्रदत्त थीम पर विश्व तम्बाकू दिवस मनाते हुए अपने कार्यालयो को तम्बाकू मुक्त परिसर घोषित करते हुए घोषणा पत्र जिला तम्बाकू नियंत्रण नोडल अधिकारी फतेहपुर को उपलब्ध कराये मुख्य चिकित्साधिकारी ने आज इस विश्व तम्बाकू दिवस पर एनटीसीपीएनएचएमयूपी नामक एक एप्स लाॅच करते हुए सभी कर्मचारियों को यह निर्देश दिये है कि इस एप्स को अपने आफिस कैम्पस में अपलोड करके सभी आम जनता को इस को लोड कराने में सहयोग करे जिससे आम जनता जागरूक हो और तम्बाकू सेवन को रोका जा सकें। इसके कोटपा 2003 के विभिन्न प्राविधानों को पूरी तरह से पालन हो सके। इस अवसर पर राजीव कुमार (द्वितीय)सचिव(पूर्णकालिक) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, फतेहपुर ने कहा कि इस कार्यक्रम का उददेश्य कोटपा 2003 के विभिन्न प्राविधानों के प्रभावी क्रियान्वयनों एवं इस कार्यक्रम में जनपद स्तरीय अधिकारियों एवं विकास खण्ड स्तरीय अधिकारियों की भूमिका पर प्रकाश डाला । इस अवसर पर नोडल अधिकारी डा0 संजय ने कहा कि जिला चिकित्सालय फतेहपुर में तम्बाकू उन्मूलन केन्द्र की स्थापना की गयी जहाॅ तम्बाकू छोडने हेतु परामर्श दिया जाता है। उन्होने कहा कि तम्बाकू छोड़ने थकावट, चिडचिडापन मानसिक दबाव के साथ अन्य बीमारियां दूर होती है। वर्तमान समय में बहुत अधिक संख्या में युवा वर्ग धूम्रपान का सेवन कर रहे है जो कि अब उनका शौक बन चुका है इसलिये उन युवा वर्गो को बहुत ज्यादा प्रोत्साहन, प्रतिबद्वता और दृढसंकल्प की आवश्यकता है। उत्तर प्रदेश वालएन्ट्री हेल्थ एसोसिएशन के क्षेत्रीय समन्वयक पुनीत कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कोटपा 2003 के विभिन्न प्राविधानों की विशेषता धारा 4 सार्वजनिक स्थानों पर निषेध एवं धारा 6 (अ ) 18 वर्ष से कम आयू के अवयश्क व्यक्तियों द्वारा तम्बाकू उत्पाद के क्रय एवं विक्रय पर प्रतिबन्ध तथा 6 (ब) शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज की परिधि में तम्बाकू उत्पाद बेचने पर प्रतिबंध के प्रभावी क्रियान्वयन पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गयी तथा प्रभावी क्रियान्वयन हेतु जनपद एवं ब्लाक स्तर पर गठित टीम द्वारा कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु कहा। कार्यक्रम के दौरान कहा कि उक्त धाराओं के उलंघन होने पर 200 रू0 का जुर्माना देय होगा। इस सीएमएस डा0 हरगोविन्द, डा0 रेखारानी सहित स्म्बन्धित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहें। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट