AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 28 मई 2018

सांसद का गोद लिया गांव भी नही बन पाया शौचमुक्त

खागा,फतेहपुर, शमशाद खान। सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत विजयीपुर ब्लाक के ग्राम रामपुर को जनपद की सांसद व केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने गोद लिया था परन्तु दो वर्ष बीतने के बाद भी ग्राम का आदर्श बनना तो बहुत दूर की बात है आज भी बुनियादी सुविधाओं से महरूम है। 2015 - 2016 में जिले की सांसद एवं केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति द्वारा ग्राम रामपुर को गोद लिया गया था जिसके बाद सुविधाओं से वंचित इस ग्राम के बाशिंदों को विकास होने की उम्मीद जाग गई उन्हें लगने लगा की जल्द ही गांवों में व्याप्त समस्याओं का खात्मा हो जाएगा। परन्तु दो साल बीत जाने के बाद भी विकास के नाम पर अलग अलग विभागों के अफसर केवल बैठक करते रहे।जबकि धरातल पर कोई भी काम नही किया गया जिससे गांव की समस्याएं जस की तस बनी हुई है। सांसद आदर्श गांव घोषित होने के बाद भी केंद्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ तक नही मिल पा रहा  सड़क,प्रधानमंत्री आवास, शौचालय निर्माण, पेयजल समस्या, बिजली आदि की समस्याएं जस की तस बनी हुई है। गांव का मुख्य मार्ग जर्जर अवस्था में है लोग ऊबड़-खाबड़ मार्ग पर चलने को मजबूर है।ग्राम वासियों की माने तो गांव में बनाये गए राशन कार्डों में भारी धांधली की गई है बड़ी संख्या में पात्रों को वंचित कर अपात्रों को राशन कार्ड बनाकर दिये गए। खराब पड़े हैंडपंपो को दुरुस्त न किये जाने से शुद्ध पेयजल की उपलब्धता भी मुश्किल बनी हुई है। सोलर स्ट्रीट लाइटों के ठूंठ खड़े होने से गांव अन्धकार में डूबा रहता है   मददअलीपुर गांव के पास नहर पुल बीते दो साल से नहीं बन सका। जबकि केंद्रीय मंत्री व जिले की सांसद द्वारा लगाई गई चैपाल में इस समस्या को ग्रामीणों को प्रमुखता से उठाया था। सफाई कर्मियों के न आने के कारण गांव के अधिकांश गलियारे गंदगी व कचरे से पटे हुए हैं। बताते चले कि सांसद के गोद लिए गांव रामपुर सहित उसके चार मजरों में 385 शौचालयों का निर्माण स्वीकृत किये गए थे परंतु  अब तक केवल 200 शौचालयो का निर्माण हो पाया है जबकि 185 शौचालय अधूरे पड़े हुए हैं। वहीं आदर्श गांव में 71 प्रधानमंत्री आवास में से पांच आवासों का निर्माण अब तक पूरा नही हो सका। स्थानीय निवासी राम सिंह ने बताया कि सांसद आदर्श गांव का तमगा मिलने के बाद भी पेयजल की समस्या नहीं दूर हो सकी। दरवाजे में लगा हैंडपंप महीनों खराब पड़ा रहा। अंत में निजी खर्च से उसे दुरुस्त कराया गया। ग्रामीण रामविशाल ने बताया कि प्राथमिक विद्यालय के पास लगी सोलर लाइट कई महीनों से खराब पड़ी है। शाम ढलते ही मुहल्ले में अंधेरा पसर जाता है। प्रधान से शिकायत के बाद भी सोलर स्ट्रीट लाइट ठीक नहीं कराई गई। करीम का कहना रहा कि सांसद आदर्श गांव में साफ-सफाई व्यवस्था बिल्कुल बेपटरी पड़ी है। पांच महीने से सफाई कर्मी के दर्शन नहीं हुए यदि ऐसा। ही रहा तो बारिश के दिनों में बजबजाती नालियों, कचरे के ढ़ेर से परेशानी उठानी पड़ेगी। वही इस सम्बन्ध में ग्राम प्रधान प्रतिभा देवी ने कहाकि बहुत हद तक ग्राम सभा की समस्याएं कम हुई हैं। जहां भी खामियां हैं, उन्हें जल्द ही दूर किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट