AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 23 जून 2018

शादी से एक दिन पहले फांसी लगा प्रेमीयुगल ने दी जान

फतेहपुर, शमशाद खान । साथ जीने साथ मरने का सपना देख रहे प्रेमी युगल को जब यह लगा कि वह एक दूसरे से बिछड़ जायेगें इससे पहले ही दोनों साथ जी न सके साथ मरने का फैसला लेते हुए दिल को दहला देने वाली घटना को अंजाम दे दिया। यहीं नही खुदखुशी करने से पहले प्रेमी ने अपनी प्रेमिका के मांग मे सिंदूर भरने के बाद एक सेल्फी लेने के बाद दोनों एक ही डाल मे फांसी पर झूल गये। जानकारी के अनुसार हुसैनगंज थानाक्षेत्र के अचाकापुर गांव निवासी श्यामबाबू उर्फ महेन्द्र का 27 वर्षीय पुत्र सुरेन्द्र लोधी का गांव के ही रामबाबू लोधी की 25 वर्षीय पुत्री नीलम से पिछले दो तीन सालों से प्रेमप्रसंग चल रहा था। बताते हैं कि ऐसी बातें छिपाये नही छिपती आखिरकार दोनों के प्रेम कहानी की जानकारी गांव मे लोगों के कानों तक पहुंचने लगी जब प्रेमी प्रेमिका के घरवालों को इस बात की जानकारी हुयी तो नीलम के पिता रामबाबू ने अपनी पुत्री की शादी मध्यप्रदेश प्रांत के छतरपुर जनपद के बटगांव मे शादी तय कर दी बताते हैं कि 23 जून को शादी है और भोर पहर वहां से बरात निकल चुकी उधर शादी के एक दिन पहले ही प्रेमी युवक देर शाम अपने अपने घर से निकल गये और गांव से लगभग एक किलोमीटर दूर पहुंचकर एक दूसरे से अपना दुखड़ा रोते रहे। उधर जब काफी देर हो गयी नीलम व सुरेन्द्र घर वापस नही आये तो परिजनों ने उनकी खोज शुरू कर दी देर रात तक खोजने के बावजूद भी दोनों का पता न चल सका। इस बीच प्रेमी युगल एक नीम के पेड के नीचे बैठे जहां प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की मांग मे सिंदूर भर दिया उसके बाद एक सेल्फी लिया इसके बाद प्रेमी प्रेमिका ने नीम के पेड़ मे एक ही हाल पर नीलम ने अपने डुपट्टे व प्रेमी ने अपने अंगौछे से फंदा डाल फांसी पर लटक गये कुछ देर बाद दोनों प्रेमीयुगल सांसे थम गयी। कुछ ही देर बाद प्रेमी का अंगौछा फट गया और वह नीचे गिर गया जबकि नीलम का शव पेड़ से लटक रहा था आज सुबह जब ग्रामीण शौचक्रिया के लिए जंगल जा रहे थे तो उन्होनें नीम के पेड़ मे नीलम का शव लटका देखा। साथ ही नीचे मृत पड़े सुरेन्द्र का शव देखकर इसकी सूचना परिजनों को दे दी। मौत की खबर सुनते ही दोनों परिजनों मे कोहराम मच गया। दोनों मृतकों के परिजन व सैकड़ों ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंच गये। तभी किसी ने इसकी सूचना क्षेत्रीय पुलिस को दे दी। घटनास्थल पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को अपने कब्जे मे लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। पोस्टमार्टम हाउस मे मृतका का पिता रामबाबू ने बताया कि उसकी तीन पुत्रियां जिसमे मृतका नीलम, र्निमला, विमला व एक पुत्र नीरज है। उसने बताया कि जब रात को ही दोनों घर से निकल गये थे तभी उसने अपने समधी को फोन कर सारी बाते बता दी थी उसने यह भी बताया कि नीलम की जगह उसकी छोटी बहन निर्मला के साथ शादी करायेगा। जबकि आज सुबह भोर छतरपुर से बारात निकल चुकी है। इस हादसे के बाद जहां दोनों परिजनों ने कोहराम मचा है वहीं सनसनी खेज घटना को देख गांव वालों के पैरों के तले जमीन खिसक गयी कुछ लोग तो दबी जुबान मे यह कहते हुए सुने गये कि ऐसा प्यार उन्होनें कभी नहीं देखा। जिसके साथ साथ जीने साथ मरने की कसम खायी उसके साथ जिंदगी को छोड़ मौत को गले लगा लिया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट