AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 30 जून 2018

बच्चों मे मै कि जगह हम का भाव पैदा करें शिक्षक- त्रिवेदी

फतेहपुर, शमशाद खान । शिक्षा के माध्यम से बच्चों मे मै कि जगह हम का भाव पैदा करने के उद्देश्य से सरस्वती बाल मंदिर इण्टर कालेज मे शैक्षणिक चिन्तन शिविर का आयोजन किया गया जिसमे विशेषज्ञों ने विस्तार से अपने अनुभव रखे। 
शनिवार को सरस्वती बाल मंदिर इण्टर कालेज रघुवंशपुरम की शाखा मे शैक्षणिक चिन्तन शिविर का आयोजन किया गया जिसका शुभारम्भ मां सरस्वती की वन्दना से किया गया जिसमे विषय विशेषज्ञों ने अपने अनुभव साझा किये। शिविर मे उपस्थित अध्यापक व अध्यापिकाओं को सम्बोधित करते हुए विद्यालय के प्रबन्धक राकेश त्रिवेदी ने कहा कि हमे बच्चों को ऐसी शिक्षा देनी है उनके अन्र्तमन मे मै की जगह हम का भाव पैदा हो तथा वह सामाजिक अनुशासन मे रहकर पूर्ण उदार भाव से समाज को अधिकाधिक देने का विचार रखे, केवल लेने या प्राप्त का विचार ही उनके मन मे न बना रहें। श्री त्रिवेदी ने कहा कि आज पूरा समाज सुसंस्कारों के संवर्धन के लिए मात्र विद्यालयों पर निर्भर हो गये हैं जो कि चिन्ताजनक व चुनौतीपूर्ण है ऐसे समय मे जब भौतिक वाद के नाम पर सामाजिक मर्यादायें तार-तार हो गयी हैं अनुशासित पीढ़ी का निर्माण बहुत ही दुरूह कार्य है और यह कार्य करने की चुनौती हम अध्यापकों की है और अनुशासित पीढी का निर्माण तभी सम्भव है, जब अध्यापक स्वयं अनुशासित व श्रमशील हो। उन्होनें कहा कि पढाई लिखाई मे कमजोर विद्यार्थियों का भी मनोबल ऊॅचा करने के लिए यह बताया जाये कि हर बड़ा काम करने वाला जरूरी नही कि शुरूआत से ही अच्छा रहा हो, मेहनत करते करते अच्छा बन जाता है। विषय विशेषज्ञों ने प्रत्येक विषय को सरल व सुरूचि पूर्ण ढंग से पढाने का तरीका बताया, जिससे अध्यापक-अध्यापिकाएं लाभन्वित हुए। इस मौके पर राजकपूर सिंह, शिवबाबू, अरविन्द आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट