AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 13 जुलाई 2018

डीएम ने 12 घंटे मे दो बार अस्पताल का किया निरीक्षण, मचा हड़कंप

फतेहपुर, शमशाद खान । शासन द्वारा मरीजों को उपलब्ध करायी जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं की हकीकत जानने के लिए जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने जिला जिला चिकित्सालय का 12 घण्टो के अंदर दो बार फिर निरीक्षण करते हुए लापरवाह कर्मचारियों को कड़ी फटकार लगाई।
शुक्रवार को जिला अधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने 12 घण्टो के भीतर दो बार फिर जिला चिकित्सालय का निरीक्षण करते हुए शासन की मंशा के अनुरूप मरीजों को मिल रही सरकारी सुविधाओं को परखा। डीएम द्वारा अचानक अस्पताल पहुंचने से चिकित्सा कर्मियों में हड़कम्प मच गया। बताते चले की शासन की मंशा के ठीक विपरीत सरकारी अस्पताल में चिकित्सको द्वारा बाहरी दवाईयां लिखे जाने, बाहर से जाँच के लिये मरीजों को मजबूर करने ऑपरेशन के लिये मोटी रकम मांगे जाने समेत अन्य मामलो की शिकायत समाजसेवी और मरीजों के तीमारदारों द्वारा जिलाधिकारी से लंबे समय से की जा रही थी जिसके क्रम में जिलाधिकारी ने पांच दिन पूर्व जिला अस्पताल का निरीक्षण कर रेडियोलॉजिस्ट की सेवाएं समाप्त किये जाने समेत कई डॉक्टरों व चिकित्सा कर्मियों से स्पष्ठीकरण तलब किया था। वही सीएमएस से अस्पताल की व्यवस्ताओं को दुरुस्त किये जाने और लापरवाह कर्मचारियों को दण्डित किये जाने की कहा था। मरीजों का हाल जानने के लिये डीएम ने रात्रि में छापामार कर हकीकत को परखा और जिम्मेदारों को सुधर जाने के लिए कड़ी फटकार लगाई। डीएम के निरीक्षण कर जाने से अस्पताल प्रशासन राहत की साँस भी नही ले पाया था कि 12 घण्टे के भीतर जिलाधिकारी दोबारा जिला अस्पताल जा धमके, जिससे एक बार फिर वहां हड़कम्प मच गया। निरीक्षण में डीएम सीधे महिला चिकित्सालय पहुंचे जहाँ  कर्मचारियो की अनुपस्थिति पर  कड़ी फटकार लगाते हुए सुधरने की नसीहत दी। उन्होंने ओपीडी भर्ती वार्ड का बारीकी से निरीक्षण  किया इस दौरान भर्ती मरीज और उनके तीमारदारों ने डीएम से  बाहरी दवाइयां लिखे जाने और डॉक्टरों के समय से न देखने की  शिकायत की जिसपर डीएम ने सीएमएस को फटकार लगाते हुए डॉक्टरों को शासन की मंशा के अनुरूप ही कार्य करने को कहा। डीएम द्वारा बार बार जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किये जाने से अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल रहा। मरीजों एवं तीमारदारों के भेस में महिला अस्पताल में लगने वाले दलाल डीएम के पहुंचते ही वहां से खिसक गए। वहीं जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने कहाकि डॉक्टरों व चिकित्सा कर्मियों को शासन की मंशा के अनुरूप गरीबो को सरकार द्वारा दी जा रही सभी स्वास्थ्य सुविधाएं  उपलब्ध कराना होगा, सभी कर्मचारियों को शासन की मंशा के अनुरूप ही कार्य करना होगा लापरवाही कतई बर्दाश्त नही की जायेगी। बार बार चेतावनी देने के बाद भी यदि कर्मचारियो में सुधार नही होता है तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहाकि जब तक जिला चिकित्सालय की स्वास्थ्य सेवाएं सही नही हो जाती उनका आकस्मिक निरीक्षण जारी रहेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट