AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 14 जुलाई 2018

मुस्लिम एसोसिएशन की सम्पन्न हुई अहम सभा-

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - मुस्लिम एसो0 द्वारा एक हगांमी मीटिंग  की गयी जिमसें अब्दुल हसीब द्वारा वर्ष 2012 से 2018 तक किये गये मुस्लि एसो0 कानपुर की जमीन बेचने, फर्जी सोसायटी बनाने एवं संस्था का 102 साल पुरानी नियमावली को बदलने के साथ अपनी कर्जी से बिना आम सभा की कोई बैठक बुलाये यह सब फैसले स्वयं लिये वहीं उच्च न्यायालय में सुनवाई से विचलित होकर हसीब द्वारा उपनिबन्धक कार्यालय के बाबुओं को गुमराह कर अपनी सूची पंजीकृत करा ली थी जो उपबिनघक द्वारा निष्प्रभावी कर दी गयी थी, लेकिन हसीब द्वारा उच्च न्यायालय में याचिका इस नियत से दायर की गयी थी कि सुनवाई भी रूक जाये और सूची भी यथावत हो जाये।
        सभा के दौरान बताया गया कि  उच्च न्यायालय ने सूची को यथावत रखते हुए सनुवाई को जारी रखने के आदेश पारित किये। अब्दुल हसीब की सूजी संशोधित नियमावली से पारित हुई जिसकी सुनवाई चलरही है। हसीब द्वारा संस्था की जमीन जो भूमाफियाओं को बेची गयी उसकी रजिस्ट्र भी बांअी गयी। हलीम मुस्लिम इंग्लिश स्कूल के नाम से बनायी गयी फर्जी संस्था जिसको उपनिबन्ध ने 2017 को निरस्त किया था तथा उस संस्था में एक करोड इक्यासी लाख के गबन के बारे में थाना चमनगंज में दर्ज मुकदमें की छाया प्रति दी गयी। यही नही हलीम मुस्लिम इंग्लिश स्कूल में मो0 दानिश, अब्दुल हसीब तथा ठठिया थाने के अपराधी विजय कुमार कनौजिया ने स्कूल की बच्चियों और शिक्षिकाओं को जाल में फंसाकर ब्लैकमेल करते हुए अधिकारियों के पास भेजकर फर्जी कूटरचित कागजों के जरिये अपने काम करवाये। मो0 दानिश आज भी फरार है और हमारे समाज का राम रहीम है। सर्वसम्मपति से प्रस्ताव पास किया गया कि अब्दुल हसीब जो अभी भी संस्था की जमीन को बचेने और संस्थाओं को खत्म करने के लिए जो कुचक्र रच रहा है उसके लिए मुख्यमंत्री तथा प्रधानमंत्री से मिलकर हसीब द्वारा किये गये घोटाले की जांच सीबीआई से कराने का अनुरोघ करेंगे तथा उसके गैंग के मो0 जावेद, मो0 असलम, विजय कुमार कनौजिया तथा उसकी पत्नी भी शामिल है, को गिरफ्तार किया जाये क्योंकि यह लोग समाज के कलंक है। सभा में मो0 मोईन लारी, रिजवान उल्ला, मुखतारूल अमीन, बकारूल अमीन, मेराज सोलंकी, फरहत हुसैन, सफीक सोलंकी, अख्तर हुसैन, मसूद हाशिम, मो0 अहमद, ऐजाज हुसैन, मो0 असलम जोमान, हाजी शरीफ करैशी, सहित संस्था के 500 सदस्यगणों ने अब्दुल हसीब और उसके गैंग के खिलाफ शहर के आला अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री से मुलाकात कर मामले की सीबीआई से जांच की मांग करेंगे बताया गया कि प्राविधानो के अनुसार अगले तीन वर्ष के लिए संस्था के पदाधिकारी एवं विधालयो की प्रबन्ध समितियों का कार्यकाल बढा दिया गया जिसकी सूचना शिक्षा विभाग को देने के लिए मो0 अहमद महामंत्री को अधिकृत किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट