AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 24 जुलाई 2018

मुख्यमंत्री पोर्टल पर लगा रहे गलत आख्या, हड़ताल को होंगे मजबूर

शिवम् वर्मा /मैथा कानपूर देहात - लेखपालों के अड़ियल रवैये से अधिवक्ताओ में रोष SDM  को सौपा ज्ञापन, मैथा तहसील के भ्रस्ट लेखपालों को लेकर अधिवक्ताओ ने रोष जताया मैथा तहसील अध्यक्ष सुधीर सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में मुख्य रूप से अधिवक्ताओ ने  तहसील मैथा के सरकारी कर्मचारियों अधिकारियो द्वारा की जा रही है इसी तहसील के कुछ लेखपाल  जैसे  अवधेश गुप्ता क्षेत्र बारनपुर कहिंजरी धर्मेंद्र सचान क्षेत्र काशीपुर विद्यासागर मिश्रा क्षेत्र ज्योति विकाश सचान भेवान  इन्ही क्षेत्रो में लगभग 5 -6 वर्षो से लगातार कार्यरत है  यह अनवरत जनता का शोषण करते है नवसृजित  मैथा के लगभग ३ वर्ष पूरे होने को है तहसील मैथा के निर्मित होने के पहले से ही ये इन्ही क्षेत्रो में कार्यरत है अधिवक्ताओ ने   कहा की  सभी लेखपाल  संगठन  है सेवा नियमावली के आधार पर  कोई भी लेखपाल 3 वर्ष से अधिक  एक ही क्षेत्र  कार्यरत नहीं लायर्स एसोसिएशन मैथा के द्वारा इस बात की शिकायत दिनांक 02 /05 /2018  माननीय उपजिलाधिकारी  तथा जिलाधिकारी महोदय को 19/06/2018 को तहसील दिवस में की जा चुकी है लेखपाल संघ के जिलाअध्यक्ष ब्रजेश दीक्षित लगभग २० वर्ष की सेवा वर्तमान तहसील मैथा  पूर्व में अकबरपुर तहसील के इन्ही क्षेत्रो में रहे है किसी अन्य जगह गए ही नहीं है शासन की मंशा के अनुरूप जनता दर्शन 09 बजे से 11 बजे निश्चित है लेकिन अधिकारी 11 से पहले आते ही नहीं है तहसील मैथा में उपजिलाधिकारी यहाँ केवल एक ही पेशकार  कारण अन्य कार्यो के होने में परेशानिया होती है जिसके कारन पत्रावलियों की आर्डर शीट खाली रहती है तरह वादों  पर मात्र नियत  तिथियां ही पक्षकारो या अधिवक्ताओ  को  मिलती है जिसके कारन वादों का समय से निस्तारण नहीं हो पाता है अधिवक्ताओ ने लेखपालों के अड़ियल रवैये को लेकर चिंता व्यक्त की ,तथा  अधिवक्ताओ का विधि व्यवसाय बड़े पैमाने पर प्रभावित होता है मृतक व्यक्ति की वरासत दर्ज करने हेतु धन उगाही लेखपाल द्वारा की जाती है   इसकी शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर की गई थी जिसकी रजिस्ट्रार कानून गो  पर आख्या  आधार पर गलत तरीके से कर दिया यदि पूर्व में दिए गए प्रार्थना पत्रों को निश्च्छेपन सही तरीके से नहीं हुआ सभी लायर्स एसोसिएशन मैथा  बाद 31/07 /2018 को व्याप्त भ्रस्टाचार के खिलाफ हड़ताल, आमरण अनशन , इत्यादि करने कर के लिए  बाध्य होंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी आप की होगी इस तरह से सभी अधिवक्ताओ ने अपने विचार दिए तथा SDM राम शिरोमणि को इस बात से अवगत कराया  इस मौके पर मुख्य रूप से  एसोसिएसन के अध्यक्ष सुधीर सिंह भदौरिया , एड० अंकित सिंह चंदेल , एड० भूपेंद्र यादव,  एड० प्रेम चन्द्र वर्मा , एड० गोविंग  सिंह सेंगर , एड० उमाकांत त्रिपाठी, एड० आर चंद्र आजाद,एड० प्रमोद कुमार, एड० रामनरेश,एड० रविकांत कमल, एड० देवेंद्र त्रिपाठी, एड० अशोक कुमार ,  शिव वीर सिंह चौहान , सतीश , विजय  राजपूत , घनश्याम राजपूत , संजीव कुमार ,अरविन्द ,शोभा देवी, कपिल  बाबू आदि अन्य लोग उपस्थित रहे I

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट