AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 10 जुलाई 2018

बीटीसी प्रशिक्षुओं विद्यालयों की चुनौतियों को स्वीकार करें-डीएम

फतेहपुर, शमशाद खान । जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने लौह पुरूष सरदार बल्लभ भाई पटेल प्रेक्षा गृह में बीटीसी प्रशिक्षुओं की कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कहा कि आपको एकल विद्यालयों में अध्यापको की कमी को देखते हुए तैनात किया जायेगा जहां बच्चों को अच्छी व गुणवत्ता परक शिक्षा देनी होगी। क्योकि आपको प्रशिक्षण दिया गया है के उपरान्त विद्यालयों में तैनाती के बाद पढ़ाना होगा। जो आपको प्रशिक्षण के दौरान बताया गया उसे स्कूलों में जाकर बच्चों को बांटे। जिन विद्यालयों में जायें वहां कि चुनौतियों को सहस्वीकार करके गुणवत्ता व पारदार्शिता को कायम किया जाये। उन्होने कहा कि टीचिंग पेशा नही है नौकरी है। सुरक्षा के लिये आये है बच्चा मां बाप के बाद सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला शिक्षक ही है। आप अपने तैनाती क्षेत्र में जाये और यह सुनिश्चित करे कि क्या-क्या चैलेन्ज है उसको स्वीकार करे। उन्होने कहा कि आपको तय करना होगा कि बच्चों को ऐसी शिक्षा दी जाये कि कान्वेन्ट में पढ़ने वाला छात्र आपके स्कूलों में आकर पढ़े। अध्यापक व छात्र दोनो मिलकर स्कूल की तकदीर बदल सकते है। स्कूल को व्यवस्था को सुदृढ करना है। अच्छा परिणाम देने वाले शिक्षकों को सम्मनित भी किया जायेगा। इस अवसर पर जिला डायट प्रचार्य, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला सूचना अधिकारी सहित भारी संख्या में बीटीसी प्रशिक्षणार्थी उपस्थित रहें। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट