AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 9 जुलाई 2018

करोड़ों की सरकारी जमीन पर भूमाफिया द्वारा कराये गये अवैध निर्माण को ढहाया गया

फतेहपुर, शमशाद खान । सरकारी जमीन पर फर्जी दस्तावेजों के सहारे प्रशासन को चुनौती देते हुए भूमाफियाओं द्वारा दुकान का निर्माण कराये जाने की खबर जब अखबार की सुर्खियां बनी तो प्रशासन हरकत मे आया और सरकारी दस्तावेज खंगालने के बाद जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह के निर्देश पर सोमवार को उपजिलाधिकारी के नेतृत्व मे गठित टीम ने अवैध निर्माण पर जेसीबी से धरासाही करा दिया जिससे माफियाओं मे हड़कंप मच गया। 
बताते चले कि शहर के जीटीरोड़ से तुराबअली पुरवा जाने वाले मार्गपथ फर्जी दस्तावेजों के सहारे स्कूल की जमीन व नालों को पटवाकर बनायी जा रही दुकानों को ढहाने का काम जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह के निर्देश पर उपजिलाधिकारी व नगर क्षेत्राधिकारी कपिल देव मिश्रा की मौजूदगी मे नगर पालिका की अतिक्रमण टीम ने जेसीबी लगाकर दुकानों को धरासाही कर दिया। मालुुम हो कि नगर शिक्षाधिकारी कार्यालय नार्मल स्कूल की बाउण्ड्री के आगे नाला पाटकर दुकानों के निर्माण का काम शुरू कराया गया था यह वहीं अवैध निर्माण है जिसे दो वर्ष पूर्व बनाना शुरू किया गया था जिस पर प्रशासन तक खबर पहुंची तो दुकानें बनवा रहे लोगों के कागजों की पडताल की गयी जो फर्जी पाये गये यह वहीं दुकानें थी जिनके काम को बंद कराने के लिए तत्कालीन डायट प्राचार्य व बेसिक शिक्षा अधिकारी ने शासन व प्रशासन को पत्र भेजकर अवैध निर्माण रोके जाने की मांग की थी जिसके बाद प्रशासन ने आनन फानन काम को बंद करा दिया था दो वर्ष की चुप्पी के बाद एक बार फिर भूमाफियाओं द्वारा अवैध निर्माण का काम तेजी से शुरू कर दिया गया था और प्रशासन सोता रहा और भूमाफियाओं द्वारा सरकारी जमीन पर कराये जा रहे दुकानों के अवैध निर्माण की खबर समाचार पत्रों की सुर्खियां बनी तो प्रशासन एक बार फिर जागा जिसके बाद सरकारी दस्तावेजों की एक बार फिर पड़ताल करने के बाद जिलाधिकारी ने अवैध निर्माण को गिरवाने का निर्देश दिया जिस पर उपजिलाधिकारी एवं भारी पुलिस बल की मौजूदगी मे आज दोपहर लगभग एक बजे पालिका की अतिक्रमण टीम ने अवैध निर्माण को ढहा दिया। जिसके बाद भूमाफियाओं मे हडकंप मच गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट