AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 18 जुलाई 2018

किसान दिवस मे जिलाधिकारी ने किसानों की समस्याओं को गंभीरता से लेने के दिये निर्देश

फतेहपुर, शमशाद खान । बुधवार को शहर के पे्रक्षागृह में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में किसान दिवस का आयोजन किया गया,जिसमें विभिन्न विभागों के अधिकारी किसान यूनियन के प्रतिनिधि एवं प्रगतिशील किसान उपस्थित रहे। जिलाधिकारी ने किसानों से कहा कि किसान अन्नदाता है, उसकी हर समस्या का निदान प्राथमिकता पर कराया जाएगा। गेहूॅं खरीद का पैसा जिन किसानों के खाते में नहीं पहुॅंचा है,इसकी जाॅंच कराकर कार्यवाही की जाएगी। शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा ऐसी व्यवस्था की जा रही है कि उन्हें धान की खरीद में कोई समस्या नहीं होगी। इसके लिए सर्वे कराया जा रहा है। फसल ऋण मोचन योजना में जिन किसानों का ऋण मोचन हुआ है,परन्तु उनके खाते में पैसा नहीं पहुॅंचा है,उसकी जाॅंच कराकर पैसा उनके खाते में भिजवाया जाएगा। उन्होनें जिला कृषि अधिकारी को इस सम्बन्ध में त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। नहरों की सिल्ट सफाई का कार्य ससमय कराया जाएगा जिससे किसानों को सिंचाई कार्य में कोई समस्या न हो। नलकूपों को पूरी क्षमता के साथ चलाया जाएगा। उन्होनें किसानों से कहा कि अच्छी खेती हेतु मृदा का स्वास्थ्य आवश्यक है,इसके लिए मृदा परीक्षण अवश्य करायें और मृदा परीक्षण के आधार पर ही उर्वरकों का प्रयोग करें जिससे लागत कम हो और अच्छा उत्पादन प्राप्त हो सके। खेती नवीनतम कृषि तकनीकी एवं वैज्ञानिकों द्वारा बतायी गयी तकनीकी का प्रयोग करते हुए की जाए जिससे अच्छा उत्पादन मिल सके। सिंचाई हेतु तालाब की आवश्यकता पर भी उन्होनें किसानों को जानकारी दी। जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार द्वारा किसानों के हित में कई योजनायें,कार्यक्रमों का संचालन किया जा रहा है,जिसका लाभ लें। उन्होनें किसानों को फार्मर प्रोड्यूसर ग्रुप बनाकर खेती करने से लाभ के बारे में भी जानकारी करायी। उन्होनें कहा कि व्यवसायिक तरीके से खेती करना किसानों के लिए लाभप्रद है। उन्नत बीज,उर्वरक,कृषि रक्षा रसायन आदि की पर्याप्त व्यवस्था है,इसकी कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। खागा में विद्युत विभाग की अत्यधिक शिकायतें है,जिनके निराकरण के लिए अधिशासी  अभियंता विद्युत तृतीय को उन्होनें सख्त निर्देश दिए,और कहा कि शिकायतों का निराकरण न किये जाने पर कार्यवाही निश्चित है। फूल सिंह का स्टीमेट स्वीकृत न किये जाने की शिकायत का तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि जन शिकायतांे के निराकरण हेतु विशेष ध्यान देकर कार्यवाही की जा रही है,और शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण हो,इसके लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है। उप कृषि निदेशक ने कृषि विभाग में कृषि यंत्रीकरण योजना में रोटावेटर, पम्प सेट, सीड ड्रिल आदि पर अनुमन्य अनुदान के बारे में विस्तार से किसानों को जानकारी करायी। भारत सरकार द्वारा चयनित 25 आंकाक्षा ग्रामों में नाडेप कम्पोस्ट, स्पे्रयर, पौध वितरण,पशु टीकाकरण,कृत्रिम गर्भाधान आदि के बारे में जानकारी दी गयी। उनके द्वारा सोलर पम्प 2 एच0पी0 एवं 3 एच0पी0 पर अनुमन्य अनुदान तथा ड्राफ्ट जमा कर सोलर पम्प स्थापित किये जाने के बारे में जानकारी किसानों को करायी गयी। उन्होनें बताया कि टैªक्टर चालित कृषि यंत्रों पर टैªक्टर के आर0सी0 की आवश्यकता नहीं है,शासन द्वारा इस पर शिथिलता प्रदान कर दी गयी है। जिंक सल्फेट कृषि विभाग के अतिरिक्त यू0पी0 एग्रो,सहकारिता विक्रय केन्द्र,एग्री जंक्शन केन्द्रों से क्रय किये जाने पर अनुदान का लाभ किसानों को प्राप्त होगा । किसान दिवस में सिंचाई,विद्युत,नलकूप आदि विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे तथा भारतीय किसान यूनियन के प्रतिनिधि, प्रगतिशील कृषक लोकनाथ पाण्डेय, आनन्द सिंह गौतम, रणविजय सिंह, राकेश यादव सहित काफी संख्या में किसानों द्वारा किसान दिवस में प्रतिभाग किया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट