AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 17 जुलाई 2018

अवैध कब्जो में दबी मालरोड की समानान्तर रोड

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - परेड चैराहे से बडा चैराहा तक चलने वाली उसकी सहायक समानान्तर रोड जिसे अस्पताल रोड कहा जाता है और यह परेड तांगा चैराहा से कोतवाली चैराहा तक है। जब कभी मुख्य सडक पर जाम लगता है तो इस रोड पर लोड बढ जाता है और वाहन चालक इसी रोड का सहारा लेते है लेकिन विभागी हीलाहवाली के कारण इस रोड पर बुरी तरह अतिक्रमण है अतिक्रमण नही इसे अवैध और जबरन कब्जा कहेंगे। सडक के दोनो तरफ फुटपाथ नदारत है। पूर्व में अतिक्रमण अभियान के तहत इन अवैध कब्जो को हटाया गया था लेकिन स्थिति उससे बदतर हो गयी है।
         बतातें चले कि परेड तांगा स्टैण्ड चैराहा से कोतवाली बडा चैराहा तक यह माल रोड की समानान्तर रोड है ओर इस रोड पर मार्केट है तथा यह सडक मेस्टनरोड, शिवाला, नईसडक को जोडती है। इस सडक पर फुटपाथ पूरी तरह गायब हो चुकी है। परेड नारायणी धर्मशाला के आस-पास फुटपातो पर अवैध कब्जे हो गये है। बस्ता, पठन सामग्री, खाने के होटल, वैल्डिंग का काम करने वाले तथा अन्य लोगो ने पूरी फुटपाथ को घेर रखा है जिसके कारण सडक काफी संकुचित हो गयी है वहीं यहां खरीदारी करने वाले अपने वाहन सडक पर खडे कर देते है ऐेसे में दिन भर जाम की स्थिति बनी रहती है। इससे आगे चलने पर आईएमऐ भवन से लेकर कोतवाली चैराहे तक फुटपाथ पर अवैध कब्जे हो गये है। कुछ ने अपनी कारो को खडा करने का गैराज बना लिया है तो कुछ ने टट्र डालकर उसमें कूलर बनाने का काम कर रहे है। स्थानीय दुकानदारों की माने तो इस रोड पर कई मार्केट, बैंक है जहां ग्राहक आते है और अपने वाहन खडा करते है लेकिन फुटपाथ पर अवैध कब्जे होने के कारण वाहन सडक पर खडा करना लोगों की मजबूरी बन गया है जिससे जाम लगा रहता है तो वहीं अवैध कब्जेदारों का सामान सडक तक फैला रहता है, स्थानीय दुकानदारों की माने तो अस्पताल की दीवार से सटे फुटपाथ पर दर्जनो कब्जे हो गये है। पूर्व में अतिक्रमण अभियान के दौरान सब हटवा दिया गया था लेकिन फिर से कब्जे हो गये।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट