AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 11 अगस्त 2018

प्रधान व सेकेट्री की अंधेरगर्दी शौचालय निर्माण के लिए महिला को दिया 6 वर्ष पुरानी चेक

फतेहपुर, शमशाद खान । प्रदेश की योगी सरकार जहाँ महिलाओ के मामलो में सावधानी दिखाने के लिये समय समय पर निर्देशित कर रही है तो वहिं जनपद के अफसरो में  महिलाओ के सम्वेदनशीलता नही दिखाई दे रही प्रधान व सेकेट्री की लापरवाही के कारण गर्भवती महिला हाथों में चेक लेकर शौचालय निर्माण का धन पाने के लिये दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर है तो वहीं वरिष्ठ अफसरो ने मदद की जगह लापरवाही की हद करते हुए छुट्टी का दिन होने के बावजूद पीड़िता को जिलाधिकारी से गुहार लगाने को भेज दिया। शनिवार को बदहवास स्थिति में कलेक्ट्रेट स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची विजयीपुर ब्लाक के ग्राम बाला का पुरवा निवासिनी किरण देवी पत्नी राजू ने बताया कि शौचालय निर्माण कराए जाने के बाद ब्लाक सेकेट्री दीप बहादुर द्वारा 1 जुलाई को शौचालय निर्माण की 12 हजार रुपये की चेक भुगतान हेतु उसे दी गई थी चेक को लेकर जब वह बैंक पहुंची तो बैंक कर्मियों ने चेक पर तिथि तीन अगस्त 2012 पड़ी होने व उसे 6 वर्ष पुरानी बताते हुए व ग्राम प्रधान एकरार उल्ला और सेकेट्री दीप बहादुर के हस्ताक्षर मिलान न करने की बात कहकर पैसा देने से इनकार कर दिया। चेक को लेकर जब उसने तहसीलदार खागा से सेकेट्री व ग्राम प्रधान की शिकायत की तो उन्होंने हाथ खड़ा करते हुए जिलाधिकारी की चैखट पर गुहार लगाने के लिए भेज दिया। गर्भावस्था के कारण चलने फिरने में असहज होने के बाद भी महिला की फरियाद ब्लाक में बैठे कर्मचारियो से नही सुनी और न ही खागा तहसील ने और छुट्टी का दिन होने के कारण जनपद मुख्यालय में भी फरियाद सुनने के लिए कोई अफसर नही मिल सका। ऐसे में दुःखियारी गर्भवती महिला अपनी ही धनराशि पाने के लिए दर दर भटकने को मजबूर है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट