AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 4 अगस्त 2018

गंगा नदी के उफान से पुलिया टूटी, कई गांव हुए जलमग्न

फतेहपुर, शमशाद खान । लगातार कई दिनों से हुयी बारिश से गंगा नदी के जल स्तर बढ़ने व कटान होने से जहां लोग खासे भयभीत हैं वहीं गंगा नदी मे हुए कटाव के पानी के बहाव से औसेरीखेड़ा व आशापुर के बीच मे बनी पुलिया ध्वस्त हो गयी जिससे जुड़े पुरवा के गांव का आवागमन ठप्प हो गया और लगभग पांच सौ बीघा फसल पूरी तरह से जलमग्न हो गया। शनिवार को प्रदेश सरकार के कारागार राज्यमंत्री जयकुमार सिंह जैकी ने हालात का जायजा लेने के लिए पहुंचे जिनके साथ उपजिलाधिकारी व पुलिस उपाधिक्षक मौजूद रहे। हालात का जायजा लेने के बाद गांव वालों को बचाने के लिए नाव की व्यवस्था करने के निर्देश दिये गये। इस दौरान राजस्व विभाग के अधिकारी पीड़ित लोगों को राहत पहुंचाने के लिए जुटे रहे। गंगा नदी के उफनाने से लोगों के चेहरों मे दहशत दिखाई पड़ रही है। बताते चलें कि बारिश से गंगा नदी का जलस्तर दिन प्रतिदिन तेजी से बढ़ रहा है। एक दिन पूर्व गंगा नदी मे हुए कटाव से पानी के तेज बहाव से औंग थानाक्षेत्र के औसेरीखेड़ा व आशापुर गांव के बीच मे बनी पुलिया ध्वस्त हो गयी। इसी पुलिया से ही जाड़े का पुरवा गांव के वाशिदों का आवागमन होता था पुलिया के ध्वस्त हो जाने से जाडे का पुरवा का आवागमन ठप्प हो गया। जिससे अब गांव के लोग जहां के तहां की हालत मे हो गये हैं। गंगा नदी के तेज बहाव से बाढ़ प्रभावित गांव के वाशिदों के चेहरों पर दहशत दिखाई पड़ रही है। लोग अपनी जान बचाने के लिए अपनी जान जोखिम मे डालकर पानी से होकर निकल रहे हैं वहीं क्षेत्र का हालात लेने के लिए प्रदेश सरकार के कारागार राज्यमंत्री जयकुमार सिंह जैकी पहुंचे और अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाढ़ पीड़ित गांव के लोगों को जल्द से जल्द निकलाने के लिए नाव की संख्या बढायी जाये और उन्हंे रहने की सुनिश्चित व्यवस्था की जाये। तूफान से प्रभावित हुए कई गांव के अलावा लगभग किसानों के पांच सौ बीघा फसले पूरी तरह से जलमग्न हो गयी। बाढ़ प्रभावित गांव के बाशिदों के चेहरों पर दहशत साफ दिखाई पड़ रही है। गंगा नदी के पानी से ध्वस्त हुयी पुलिया से लोगों के बीच खासा हड़कंप मचा हुआ है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट