AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 11 अगस्त 2018

पानी तो घटा लेकिन बढी परेशानी

कानपुर नगर,  हरिओम गुप्ता - बीते दिनो पांच दिन की हुई मूसलाधार बारिश ने शहर भर में पानी-पानी कर दिया। शहर से लेकर गांवांे तक में भीषण जल भराव हुआ। मकान डूब गये, मवेशी बह गये, फसले खराब हो गयी तो अभी भी कई इलाके पानी से भरे है और लोग घरों में कैद है। इधर बारिश तो थम गयी लेकिन लोगों की परेशानी अब और भी बढ गयी है।
               पाण्डू नदी व नोन नदी का जल स्तर घटने से आसपास के क्षेत्रों में पानी कम होने लगा है, लेकिन लोगों की परेशानी कम नही हो रही है। गंदगी व कीचड से लोग हलकान है। बाढ प्रभावित क्षेत्र वरूण बिहार, मेहरबान सिह का पुरवा, रविदास पुरम, मकडीखेडा, टिकरा, पिपरा, सुन्दरनगर, पनकी गांव सहित कई गांवों में पानी कम होने पर लोग कीचड में गृहस्थी का सामन खोज रहे है। बाढ के पानी के कारण लेागों की गृहस्थी बर्बाद हो चुकी है। कई क्षेत्रों में लोग पानी घटने के बाद अपने मकान ठीक कराने में जुटे है। ऐसे में बीमारियों का खतरा बढ गया है। नमी पाकर संक्रामक रोग, मलेरिया, डायरिया, बुखार के हमले तेज हो गये है। फिलहाल विभाग द्वारा दवा का छिडकाव किया जा रहा है। वहीं लेखपालों द्वारा बाढ से गिरे मकानो व अन्य नुकसान का सर्वे भी शुरू कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट