AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 10 अगस्त 2018

इनामी बदमाश को अवैध राइफल के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

खागा, फतेहपुर, शमशाद खान । पुलिस अधीक्षक राहुल राज के निर्देश पर अपराध और अपराधी पर लगाम कंसने के लिये चलाए जा रहे धरपकड़ अभियान के तहत खखरेरू पुलिस ने उमर केवट गैंग के इनामिया बदमाश को एक अवैध रायफल व कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया । 
         शुक्रवार को नवागन्तुक क्षेत्राधिकारी अंशुमान मिश्रा ने बताया कि खखरेरू थानाध्यक्ष सच्चिदानंद त्रिपाठी अपने हमराही सिपाहियों रामनिवास, राम आधार सिंह व राजेश कुमार के साथ वारंटियों की दबिश में थे। जैसे ही पुलिस टीम सरकारी अस्पताल के सामने पहुँची तभी खखरेरू कस्बे स्थित अस्पताल के सामने एक संदिग्ध ब्यक्ति दिखा जो पुलिस को देखते ही भागने लगा। जिसे पुलिस टीम ने घेराबन्दी करते हुए पकड़ लिया। जिसके पास से पुलिस ने एक रायफल 315 बोर व चार जिन्दा कारतूस बरामद कर थाने ले जाकर कड़ाई से पूँछतांछ की। पूँछतांछ के दौरान युवक ने पुलिस को अपना नाम नुसरत अली उर्फ नसरत अली पुत्र इसरत अली निवासी कोट थाना खखरेरू बताते हुए पुलिस टीम को बताया कि इस क्षेत्र में वर्ष 1990 से 2000 के दशक में शंकर केवट और इसराइल का गैंग सक्रिय था। जिनमे वर्चस्व को लेकर हमेशा जंग छिड़ी रहती थी।  शंकर केवट मुठभेड़ में मारा गया। जबकि इस्राइल अपनी स्वाभाविक मौत मरा। जिसके बाद गैंग की कमान इसराइल के पुत्र बाबू शमीम ने संभाली जो इस्राइल गैंग का फायर पावर था। इसी दौरान मेरा सम्पर्क बाबू शमीम के साथ हुआ। जिसके बाद हम दोनों ने मिलकर गढ़ा में एक हत्याकांड को अंजाम दिया। जिसमे शमीम पकड़ा गया जो कि आज लगभग 15 वर्षों से जेल में है। तब से इसके फायर पावर गैंग के सदस्यों के पास अलग अलग ठिकानों पर हंै।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट