AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 2 अगस्त 2018

नर्सिंग स्टाफ ट्रेनिंग कार्यक्रम का आयोजन

कानपुर नगर,  हरिओम गुप्ता - भारतीय बाल रोग अकादमी द्वारा विश्वस्तनपान सप्ताह के तहत बाल रोग विभाग सभागार में पिडियाट्रिक, गाइनी, पोस्ट ग्रेजुएट और नर्सिंग स्टाफ को स्तनपान पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि प्रधानाचार्य डा0 नवीनत कुमार, डा0 आरके मौर्या, डा0 मीरा अग्निहोत्री नेदीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उदघाटन किया। कार्यक्रम का संचालन डा0 यशवन्त राव व डा0 अमित चावला ने किया। डा0 यशवन्त ने कहा विव स्वास्थ्य मानकों के अनुरूप मां का दूध अमृत के समान है। डा0 शाइनी सेठी ने बताया कि मां द्वारा अपने शिशु को अपने स्तनों से आने वाला प्राकृतिक दूध पिलाने की क्रिया को स्तन पान कहते है। डा0 राज तिलक ने इस वर्ष का स्लोगन ब्रीस्ट फीडिंग फार हेल्थी बेबी एण्ड हैप्पी मर्दस के बारे में विस्तार से बताया। डा0 अमित चावला ने कहा कि मां का दूध केवल पोषण ही नही जीवन की धारा है। इससे मां और बच्चों के स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पडता है। शिशु को पहले 6 महीने तक केवल स्तनपान पर निर्भर रखना चाहिये। यह शिशु के जीवन के लिए जरूरी है क्योंकि मां का दूध सुपाच्य होता है और इससेपेट की गडबडियों की आशंका नही होती। डा0 सीमा निगम ने डिब्बा बंद नियम व कानून के बार में जानकारी दी। डा0 राखी जैन ने स्तनपान पर नर्सो की प्रतियागिता कराई। इस अवसर पर डा0 किरन पाण्ण्डे, डाा0 ललित अरोरा, डा0 सविता रस्तोगी, डा0 नीना आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट