AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 11 सितंबर 2018

वैश्य एकता परिषद ने विधायक को सौंपा 2 सूत्रीय ज्ञापन

फतेहपुर, शमशाद खान । अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के जिलाध्यक्ष वैद्य राम स्वरूप गुप्त के नेतृत्व में आज परिषद के पदाधिकारियों एवं समाज के लोगों ने सदर विधायक विक्रम सिंह के माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 2 सूत्री ज्ञापन भेजकर झन्डागीत विजयी विश्व तिरंगा प्यारा को पुनः पाठ्य पुस्तकों में सम्मलित करने व फतेहपुर जेल में बैरक नं0 9 का पार्षद बैरक करने की मांग की। पदाधिकारियों एवं समाज के लोगों का नेतृत्व करते हुए परिषद के जिलाध्यक्ष वैद्य राम स्वरूप गुप्त ने कहा कि झन्डागीत की रचना पदमश्री श्यामलाल गुप्त पार्षदजी ने की थी। पूर्व में उक्त झंडागीत पाठ्य पुस्तकों में सम्मलित था, लेकिन पूर्ववर्ती सरकार के कार्यकाल में उक्त गीत पाठ्य पुस्तकों से प्रथक कर दिया गया। नव पीढ़ी को उक्त झंडागीत की जानकारी न होने से उक्त गीत लोगों के संज्ञान से बाहर हो जायेगा। ऐसी परिस्थितियों में उक्त झंडागीत को पुनः पाठ्य पुस्तकों में सम्मलित किया जाये। परिषद के युवा जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल ने कहा कि श्यामलाल गुप्त पार्षदजी ने कर्मभूमि फतेहपुर बनायी थी। देश की आजादी में अहम भूमिका निभायी थी। फिरंगियों ने उनको अलग-अलग समय पर 7 बार स्थानीय कारागार निरूद्ध किया था। बैरक नं0-9 में ही उन्होंने झंडागीत की रचना की थी। उनकी याद में बैरक नं0-9 को पार्षद बैरक के नाम की शिलापट लगायी जाये। इसके लिए कार्यवाही की मांग की। ज्ञापन देने वालों में परिषद के प्रदेश महासचिव विनोद कुमार गुप्त, अरूण जायसवाल, सन्तोष गुप्त, मनोज सोनी, गुड्डू मोदनवाल, राम विशाल गुप्त, गिरजाशंकर सोनी, राधेश्याम हयारण, दिलीप मोदनवाल, राम प्रकाश गुप्ता, आशीष अग्रहरि आदि रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट