AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 13 सितंबर 2018

सरकार के शोषण से पीड़ित भट्टा संचालक 24 को करेंगे लखनऊ में प्रदर्शन

फतेहपुर, शमशाद खान । ईट निर्माता समिति की एक बैठक जिलाध्यक्ष छत्रपाल सिंह की अध्यक्षता में सपन्न हुई जिसमें सरकार द्वारा किये जा रहे शोषण के विरोध में 24 सितम्बर को लखनऊ में आयोजित होने वाले धरना प्रदर्शन को लेकर रणनीति तय की गई।
गुरूवार को शहर के हरिहरगंज स्थित एक होटल में ईट निर्माण समिति की बैठक जिलाध्यक्ष छत्रपाल सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमे सरकार द्वारा भट्टा संचालको के हितों को अनदेखा कर शोषण किये जाने के विरोध में लखनऊ में आयोजित होने वाले धरना प्रदर्शन को लेकर रणनीति तय की गई।बैठक में मुख्यातिथि के रूप में प्रदेश उपाध्यक्ष गोपी श्रीवास्तव ने शिरकत की। बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहाकि प्रदेश सरकार द्वारा ईट भट्टा संचालको से कर के रूप में रॉयल्टी लेने के बाद जीएसटी लगाया जा रहा है जोकि गलत है। सरकारी योजनाओं में लाल ईंटों की जगह फ्लाई ऐश ब्रिक्स को अनिवार्य किया गया है जबकि फ्लाई ब्रिक्स ईट से रेडिएशन होता है जिससे दमा कैंसर चर्म रोगों सहित कई तरह की जानलेवा बीमारियो का खतरा होता है। साथ की कहाकि प्रदेश सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल पूरा होने के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ईट भट्टा से रॉयल्टी समाप्त किये जाने की घोषणा की थी जिसका आदेश जारी किये जाने एवं ईट उद्योग को जीएसटी से मुक्त कराये जाने के साथ ही स्वच्छ्ता प्रमाण पत्र की अनिवार्यता को समाप्त किये जाने की मांग किया। उन्होंने कहाकि सरकार भट्टा संचालको की समस्याओं पर गंभीर नही है ईट भट्टा संचालको द्वारा एडवांस में रॉयल्टी जमा करने के बाद भी 18 प्रतिशत जीएसटी लगाकर उनका शोषण किया जा रहा है जबकि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा रॉयल्टी को ही टैक्स माना गया है ईट भट्टा मालिको की समस्याओं को लेकर प्रदेश संगठन के आह्वान पर 24 सितम्बर को लखनऊ के कांशीराम इको गार्डन में धरना प्रदर्शन का आयोजन किया जा रहा है। जिसमे भट्ठा संचालको की समस्याओं के शीघ्र निस्तारण की मांग की जायेगी इस मौके पर महामंत्री पप्पू तिवारी, ज्ञान प्रकाश, अशोक बाजपेई, पप्पू शुक्ला, वेद प्रकाश, राजकुमार मौर्या, संजय सिंह, मुन्ना सिंह भदौरिया, संजय गुप्ता आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट