AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 10 सितंबर 2018

किसान महोत्सव के तीसरे दिन मेले मे उमड़ी भीड़ ने जानी सरकार की योजनायें

फतेहपुर, शमशाद खान । कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत पारम्परिक मेलों व महोत्सवों के साथ पांच दिवसीय विराट किसान मेला ग्राम अल्लीपुर बहेरा विकास खण्ड ऐरायाॅं में तीसरे दिन जारी रहा। जिसमे तीसरे दिन मेले का शुभारम्भ पं0 दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर भाजपा जिलाध्यक्ष प्रमोद कुमार द्विवेदी ने किया कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रमोद द्विवेदी ने किसानों को सम्बोधित करते हुए सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं की जानकारी दी। इस अवसर पर कृषि राज्यमंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह मौजूद रहे। इस दौरान बडी संख्या मे मेले मे पहुंचे किसानों ने जमकर खरीददारी की तो वहीं भाजपा नेताओं ने सरकार द्वारा संचालित किसानों की योजनाओं की जानकारी दी। मेले में कृषि विज्ञान केन्द्र थरियांव के वैज्ञानिक डा0 देेवेन्द्र स्वरूप, डा0 साधना वैश्य तथा शियाट्स के वैज्ञानिक डा0 मनीष केशरवानी, जिला कृषि अधिकारी वृजेश सिंह, जिला उद्यान अधिकारी राम सिंह यादव, उप सम्भाभिय कृषि प्रसार अधिकारी बबलू कुमार, भूमि संरक्षरण अधिकारी ई0ई0सी0 खागा आर0पी0कुशवाहा व भाजपा नेता संतोष गुप्ता, बिन्दकी भाजपा नेता अनील सिंह, जिला पंचायत सदस्य गिरजेश सिंह उपस्थित रहे। जिला कृषि अधिकारी बृजेश सिंह के द्वारा मंत्री का एवं मुख्य अथिति प्रमोद कुमार द्विवेदी का स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन उद्यान विभाग के सलाहकार वीे0के0सिंह ने किया। तकनीकी सत्र में शियाट्स के वैज्ञानिक डा0 मनीश केसरवानी ने जैविक खेती की आवश्यकता क्यों इस पर सभी बिन्दुओं की जानकारी दी यूरिया, डि0ए0पी0 तथा क्यूरेट आफ पोटश के सिर्फ तीन तत्व ही प्राप्त होते है जबकि जैविक एवं कार्बनिक खादो से भूमि के सभी पोषक होते है। सभी पोषक तत्वों की कमी से पौधो मे क्या लक्षण होते है और उसकी पूर्ति के लिये क्या करना है उसकी तकनीकी जानकारी दी। कम भूमि वाले कृषकों को मशरूम की खेती के तकनीकी बिन्दुओ की जानकारी दी यहाॅ पर बटर मशरूम की खेती सफलता पूर्वक कर सकते है। इस खेती में तापक्रम नियंत्रण की विशेष भूमिका होती है इसका ध्यान अवश्य रखा जाये। उन्होने कृषि से सम्बन्धी कोई जानकारी प्राप्त करने हेतु अपना मो0 नं0 7084235148 भी कृषकों को दिया। जिला उद्यान अधिकारी राम सिंह यादव उद्यान विभाग की समस्त योजनाओं की जानकारी देते हुये बताया कि इस विभाग में भूमिहीन कृषको से लेकर भूमिवान कृषक तक के लिये योजनाये है, मशरूम,पाली हाउस आदि यह योजनाये कम भूमि वाले या भूमिहीन कृषको के लिये,आम,अमरूद,केला की खेती की जानकारी दी विशेष रूप से केला की खेती को गाॅठ वाली खेती न करने की सलाह दी और इस पर मिलने वाले अनुदान की जानकारी दी। टिसू कल्चर विधि से केला की खेती करने पर लगभग एक से डेढ़ लाख प्रति हेक्टेयर शुद्ध लाभ मिलने की संभावना बताया जबकि गाॅठ विधि से 70 से 80 हजार रू0 प्रति हे0 ही प्राप्त होता है। कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डा0 देवेन्द्र स्वरूप ने पशुपालन के सम्बन्ध मे पशु प्रबन्धन एवं पशु चिकित्सा की जानकारी दी। कृषको को कम से कम एक पशु अवश्य पाले की सलाह दी। पशु खरीदते समय किन-किन बातो का ध्यान रखा जाये जानकारी दी। अनुसूचित जाति के कृषको के लिये मसाले एवं फूलो की खेती सम्बन्धी योजना की जानकारी दी। गुलाब एवं ग्लैडियधेलस की खेती के बारे मे जानकारी दी आपने अन्त में जय जवान-जय विज्ञान का नारा देकर अपने सम्बोधन का अन्त किया। मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष प्रमोद द्विवेदी ने अपनी पार्टी की ओर से कृषको के हित मे जो जो कार्य किये और योजनाये चलयी उसकी जानकारी दी एवं पूर्व की सरकारो के कार्य से तुलना की । किसाने के हक की लड़ाई के लिये इनकी पार्टी हमेशा खड़ी रहेगी। हम किसानो की आय को दोगुना करने के लिये प्रतिबद्ध है तथा जैविक खेती पर कृषि मंत्री द्वारा जो प्रदेश में सराहनीय कार्य किया जा रहा है उसकी प्रसंशा की। भाजपा नेता संतोष गुप्ता ने अपने वोजस्वी भाषण से किसानो को मंत्र मुग्ध किया। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग लखनऊ की इन्द्रजीत पटेल की शिवलोक पार्टी ने भक्ति गीत गाकर एवं मान सिंह की नौटंकी पार्टी ने लोक गीत गा कर मेले मे आये हुये कृषको का मनोरंजन किया। किशोर कवि शिवम हथगामी, कवि शिवशरण बन्धु, कवि उज्ज्वल मिश्र ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी बाजपेई के सम्मान मे काव्य रचनाये सुनायी ं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट