AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 4 सितंबर 2018

पुलिस का मानवीय रूप बने राधानगर चैकी इंचार्ज आशुतोष

फतेहपुर, शमशाद खान । अक्सर अपने कारनामो की वजह से चर्चा में रहने वाली पुलिस का मानवीय रुख लोगो को राधानगर चैकी इंचार्ज आशुतोष सिंह के रूप में लोगो को देखने को मिला चैकी क्षेत्र में 28 अगस्त को अज्ञात लावारिस मूक बधिर लगभग 30 वर्षीय महिला के मिलने पर मोहल्ले वासियों द्वारा यूपी 100 को काल कर बुलाया गया जहाँ महिला के बोलने में असमर्थ होने की बात सामने आयी। ऐसे में चैकी इंचार्ज आशुतोष सिंह ने न केवल सूझ बूझ का परिचय देते हुए महिला पुलिसकर्मियों के सहयोग से मेडिकल कराने के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया जहाँ से रिफर करने पर गैर जनपद इलाहाबाद के स्वरूप रानी मेडिकल कालेज इलाज के लिए ले जाया गया इलाहाबाद के चिकित्सालय में महिला के मानसिक रूप से विछिप्त होने की बात सामने आयी।इस बीच महिला को आश्रय देना एक कठिन चुनौटी थी जिसके लिए महिला थाना में आसरा दिलाते हुए सारी प्रक्रिया सम्पन्न कराई गई वहीं न्यायलय से आदेश लेकर महिला को मेंटल हॉस्पिटल गोरखपुर इलाज के लिए भेजे जाने के लिये प्रयासरत हो गए साथ ही महिला को उसके परिवार से मिलाने के लिये कई जिलों की पुलिस से सम्पर्क साधने में जुट गए। चैकी इंचार्ज आशुतोष का यह मानवीय रूप लोगो के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है जिसकी क्षेत्र के लोगो के अलावा जनपद वासियों द्वारा जमकर सराहना की जा रही है। वहीं चैकी इंचार्ज आशुतोष सिंह ने बताया कि दिमागी रूप से कमजोर और बोलने सुनने में असमर्थ महिला के इलाज के लिये न्यायालय से आदेश लेकर गोरखपुर मेंटल हॉस्पिटल ले जाया जायेगा साथ ही परिवार से मिलाने के लिये अन्य जिलों की पुलिस से सम्पर्क कर उन्हें ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट