AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

रविवार, 30 सितंबर 2018

विवेक तिवारी की पुलिस द्वारा निर्मम हत्या के विरोध में कैन्डिल मार्च

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - भारतीय आरक्षण मुक्ति दल द्वारा लखनऊ में विवेक तिवारी कीपुलिस द्वारा निर्मम हत्या के विरोध में कैन्डिल मार्च जीएनके कालेज चैराहा से भारत माता मदिर बडा चैराहा तक निकाला गया, जिसके उपरान्त एक सभा आयेाजित हुई, जिसमें अरूण पाण्डेय ने कहा कि लखनऊ की पुलिस गुण्डा हो चुकी है और एक सीधे साधे व्यक्ति की हत्या की गयी है।
          उन्होने कहा इस प्रकरण में जितने भी दोषी है सभी को  फांसी की सजा होनी चाहिए। योगेश मिश्रा ने कहा इस घटना से विवेक का पिरवार अनाथ हो गया है, उनकी दोनो बच्चियों को न्याय कब मिलेगा। कहा विवेक तिवारी के परिजनों को उ0प्र0 सरकार दो करोड का मुआवजा, परिवार के दो सदस्यो को नौकरी दी जाये। दिनेश महाराज ने कहा क्या अब रात में सडकों पर निकलना जनता का अपराध है, क्योंकि सडक पर निकलेंगे तो विवेक तिवारी की तरह लखनऊ पुलिस की तरह उ0प्र0 का प्रशासन किसी की भी हत्या कर सकता है। सभा का संचालन कर रहे जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ यादव ने कहा कि आज उ0प्र0 की पुलिस पर से जनता का विश्वास उठ चुका है। पुलिस निर्दोषो का फंसा रही है या किसी भी निर्दोश की हत्या करवा सकती है। इस अवसर पर अरविन्द राज त्रिपाठी, बंटी सेंगर, राजन, दीपक पाण्डेय, वीरू मिश्रा,  अमित सिंह, अजय भदौरिया, अर्पित राय, अभिन्यु भदोरिया, अहमद रफी अंसारी, रवि यादव, कौशल मिश्रा आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट