AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 14 सितंबर 2018

बाढ पीडितों को रेल के माध्यम से भेजी सामग्री

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - केरल में आई प्राकृतिक आपदा बाढ से पीडित लोगों की मदद के लिए कानपुर पास्टर्स एसोसिएशन व भारतीय मसीही महासभा ने मिलकर राहत सामग्री रलवे द्वारा भेजी, जिसमें खाघ सामग्री, कपडे, रोजमर्रा का सामान तथा दवाई शामिल रही। माल को रेल द्वारा रवाना किया गया।
           इस अवसर पर पास्टर्स एसो0 के महासचिव पदरी जितेन्द्र सिंह ने कहा कि हम पीडितों के प्रति गंभीर है कहा हमारा अवाहन सभी साामजिक उत्थान कमेटियों व संस्थाओं से यह है कि हम सभी मिलकर पूरे भारत में यदि कोई विपत्ति या संकट होता है तो एक जुटता के साथ खडे होकर धर्म व सम्प्रदाय से ऊपर उठकर देश व समाज के लिए मिलजुलकर कार्य करे। सैमुअल सिंह ने कहा हम सभी करेल के लोगों के साथ है और कानपुर तथा उन्नाव में भी जिन क्षेत्र में बाढ आई है वहां पर भी यथा संभव मदद करने का प्रयास रकेगें। भारत हम सबका है और यही हमसब की जिम्मेदारी है। इस अवसर पर हैलीना सिंह, सरवन, लक्ष्मण पाल, अनिल गिलबर्ट, इन्द्र कुमार दास, पारसनाथ, भम सिंह, पादरी ब्रजेश कुमार, मनोज, दीपक वर्मा, जगराम सिंह आदि पादरी मौजूद रहे।

रेलवे ने लिया पूरा किराया
जितेन्द्र सिंह ने बताया कि कुल भेजी जा रही सामग्री का भार 20 कुन्टल है और रलवे पार्सल विभाग द्वारा प्रति कि0 200 रू0 चार्ज किया गया है। कहा कि यह बताने पर कि यह बाढ पीडितों के लिए राहत सामग्री भेजी जा रही है उन्हे किसी प्रकार की छूट नही दी गयी। कहा 200 रू0 के हिसाब से 12 हजार रू0 होता है यदि रेलवे भाडा नही लेती तो 12 हजार रू0 की सामग्री की और मदद हो जाती। उन्होने मांग की है कि पूरे देश मे कहीं भी पीडितों को मदद पहुंचाने वाली संस्थाओ से कोई शुल्क न लिया जाये।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट