AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 24 अक्तूबर 2018

महिलायें हर क्षेत्र मे पुरूषों से कम नही- आंजनेय

फतेहपुर, शमशाद खान । नेशनल शेड्यूल कस्ट्स फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कारर्पोरेशन दिल्ली (सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार) द्वारा जागरूकता शिविर और निःशुल्क चिकित्सा जांच का आयोजन सरदार बल्लभ भाई पटेल प्रेक्षा गृह में जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। जिलाधिकारी ने कहा कि अनुसूचित जाति के व्यक्ति जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय तीन लाख तक, एनएसएफडीसी योजनाओं का राज्य चैनलाइजिंग एजेन्सियों(एससीए), सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों(आरआरबी), गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनी-माइक्रो वित संस्थान(एनबीएफसी-एमएफआई) और अन्य संस्थानों के द्वारा क्रियान्वित की जाती है। उन्होने कहा कि ऋण आधारित व स्वरोजगार ऋण योजनाओं में मियादी ऋण, लघु ऋण वित, महिला समृद्वि योजना, महिला किसान योजना, शिल्पी समृद्वि योजना, लघु व्यवसाय योजना, नारी आर्थिक सशक्तीकरण योजना, हरित व्यवसाय योजना, स्टैड-अप इंडिया, शिक्षा ऋण योजना, वोकेशनल शिक्षा और प्रतिक्षण ऋण योजना, एनबीएफसी-एफएफआई द्वारा क्रियान्वित योजना आजीविका माइक्रो फाइनेंस योजना का लाभ पाने के लिये पात्र है। उन्होने कहा कि महिलाये हर क्षेत्र में पुरूषों से कम नही है ऐसे आयोजन का अधिक से अधिक कराये जायें ओर महिलाओं को जागरूक किया जायें। महिलाओं ने खुद के पैसों से समूह बनाया और इस क्षेत्र में बेहतर कार्य कर रही है। महिलायें ही परिवार को सृजित करती है उनको सामथ्र्य बनायें और उनकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी महिलाओं को दी जायें। अधिक से अधिक कैम्पों का महिलाओं पर केन्द्रित कर आयोजन किया जाये जिससे महिलाऐं जागरूक हो सके और स्वावलम्बी बन सकें एवं ऐसे आयोजनों से सीख मिलती है। जिनको लोन स्वीकृत किया गया है वह और लोगो को दिलाने में मदद करें जिससे खुद का स्वरोजगार कर सक्षम बन सके।  शिविर में कुल 395 का पंजीकरण किया गया 94 को चश्मा दिया गया, 126 महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण, 107 लोगो को आॅख,नाक,कान का एवं अन्य को जाॅच कर दवा वितरित की गयी । कुल 6 लोगो केा पासबुक जिलाधिकारी द्वारा दी गयी और 2 को ऋण स्वीकृत पत्र दिया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट