AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 8 अक्तूबर 2018

विद्युत कर्मचारियों ने विरोध के दूसरे दिन अधीक्षण अभियंता दफ्तर का किया घेराव

फतेहपुर, शमशाद खान । बकाया वेतन का भुगतान कराए जाने ईपीएफ कटौती की जानकारी एवं संविदा कर्मचारियों को बहाल करने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन निविदा संविदा संघ के बैनर तले विद्युत कर्मियों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय का घेराव कर जमकर नारेबाजी एवं प्रदर्शन करते हुए अपनी आवाज बुलन्द किया। सोमवार को अपनी मांगों को लेकर उप्र पावर कार्पोरेशन निविदा संविदा कर्मचारी संघ के बैनर तले संविदा बिजली कर्मचारियो ने अधीक्षण अभियन्ता कार्यालय का घेराव कर जमकर नारेबाजी एवं प्रदर्शन किया। बिजली कर्मचारियो की मांगों में बकाया वेतन भुगतान के साथ ही एवं ईपीएफ कटौतियो की जानकारी दिए जाने, हटाये गए संविदा कर्मचारियों की बहाली जैसी अन्य मांगे शामिल रही। धरने के सम्बोधित करते हुए अध्यक्ष अनिल कश्यप ने कहा कि अधिकारियो एवं ठेकेदारों की मिली भगत से संविदा बिजली कर्मियों का शोषण किया जा रहा है जो कतई बर्दाश्त नही किया जायेगा ग्रामीण क्षेत्र के विद्युत उपकेंद्रों पर संविदा कर्मचारियों से 24 घण्टे 30 दिन कार्य लिया जाता है जिसे नियमानुसार 8 घण्टे प्रतिदिन एवं 26 दिन कार्य लिया जाए उन्होंने कहा कि ठेकेदारों द्वारा कर्मचारियो के ईपीएफ एवं अन्य कटौतियों में भारी घोटाला किया गया है कम्पनी कर्मचारियो के ईपीएफ की जानकारी को सार्वजनिक करे। उन्होंने तीनो खण्डो के सभी संविदा कर्मियों का बकाया तीन माह का वेतन भुगतान, ईपीएफ कटौतियों का 2009 से लेकर 2018 तक का ब्यौरा उपलब्ध कराए जाने के साथ ही निकाले गए कर्मचारियो को पुनः बहाल किये जाने की मांग किया। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगों को गंभीरता से लेकर समस्याओ का निदान नही किया जाता तब तक निस्तारण नही किया जाता रब तक धरना अनवरत जारी रहेगा इस मौके पर विवेक मात्रे, धर्मेन्द्र सिंह गौर, दिलीप अग्निहोत्री, मुशीर खान, जय प्रकाश शुक्ला, ज्ञान चन्द्र विश्वकर्मा, बाबूलाल रमेश कुमार, महेश कुमार, राजेश कुमार, सन्दीप शुक्ला, दिनेश, पंकज समेत बड़ी संख्या में संविदा विद्युत कर्मचारी मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट