AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

रविवार, 28 अक्तूबर 2018

केन्द्रीय मंत्री के आवास पर कर्मचारियांे ने उपवास रख दिया धरना

फतेहपुर, शमशाद खान । पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर आंदोलित कर्मचारियो ने अटेवा एनएमओपीएस के बैनर तले केंद्रीय मंत्री एवं सांसद के आवास पर उपवास रखने के साथ ही धरना देकर सासंद से उनकी मांगों को संसद के आगामी सत्र में उठाए जाने की मांग किया। रविवार को अटेवा एनएमओपीएस के आह्वान पुरानी पेंशन बहाल किये जाने की मांग को लेकर सफाई कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष बाबूलाल पाल की अध्यक्षता में आंदोलित कर्मचारियो ने ताम्बेश्वर मोहल्ले स्थित जिले की सासंद एवं केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के आवास के बाहर 21 कर्मचारियो द्वारा सामूहिक उपवास रख धरना देते हुए सासंद द्वारा संसद के आगामी शीत सत्र में उनकी मांगों को उठाए जाने की मांग किया। धरने को संबोधित करते हुए अटेवा संघ के जिलाध्यक्ष निधान सिंह ने सभी सरकारी कर्मचारियों को नई पेंशन और पुरानी पेंशन का अंतर बताते हुए पुरानी पेंशन बहाल किये जाने तक अपनी मांगों पर अडिग रहने व लड़ाई लड़ने की बात कही। साथ ही कहा कि पेंशन कोई भीख नही बल्कि सभी कर्मचारियों का अधिकार है जिससे उन्हें वंचित नही किया जा सकता।  कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सफाई कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष बाबूलाल पाल ने मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ द्वारा तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह को पत्र लिखकर पेंशन बहाली किये जाने की बात याद दिलाते हुए कहा कि यदि कर्मचारियो की पुरानी पेंशन बहाली की मांगे नही मानी जाती तो आगामी लोकसभा चुनाव में सरकार को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। सभी राजकीय कर्मचारी मिलकर सरकार को सबक सिखाने का काम करेंगे।स् उन्होंने सभी विभागों के साथी कर्मचारियो से सहयोग दिए जाने एवं संघर्षों को अन्तिम पड़ाव के अंजाम तक ले जाने जाने में सहयोग देने का का आह्वान किया। इस मौके पर बीरेंद्र सिंह,हेमचंद्र चैधरी,अशोक सिंह,मनोज वर्मा,महेंद्र मौर्य, देव शुक्ला,विजय त्रिपाठी,तरुण सिंह,देवेंद्र पांडेय,मिथलेश ,रामबरन, मो अहमद, प्रदीप पासवान, उमाशंकर साहू, मनीष प्रताप सिंह, उदित सचान, ध्यान सिंह, ब्रजेश सिंह, सुनील सिंह,कुलदीप राकेश वर्मा, शैलेंद्र मौर्य, सन्दीप सचान, अंशु सिंह, कन्धई लाल पाल, समेत बड़ी संख्या में शिक्षक कर्मचारी एवं अधिकारी मौजूद रहें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट