AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 31 अक्तूबर 2018

लापरवाही के चलते फिर गयी निजी नर्सिंग होम मे प्रसूता की जान

फतेहपुर शमशाद खान । जनपद मे कुकुरमुत्ते की तरह फैले नर्सिंग होम जहां आये दिन मौत का सौदा किया जाता है और पैसे के लालच मे मौत का खेल खेला जा रहा है। हलांकि प्रशासन इस ओर बिल्कुल ध्यान नही दे रहा है जिसके चलते नर्सिंग होम संचालक अपने मनमनी कर रहे हैं। यही नही रूपयों की कुछ लालच मे आशाबहुयें व दलालों के माध्यम से मरीज व उनके तीमारदारों को बहला फुसलाकर नर्सिंग होम ले जाते हैं जहां उनको अच्छा कमीशन मिलता है इसके बाद नर्सिंग होम संचालक मरीज के तीमारदारों से मोटी रकम ऐंठ लेते हैं उसके बावजूद भी मरीज का सही से इलाज नही होता है। जिसके चलते या तो जच्चा बच्चा की मौत हो जाती है। ऐसा ही एक मामला शहर क्षेत्र के राधा नगर बहुआ रोड स्थित हैप्पी नर्सिंग होम का बुधवार की सुबह प्रकाश में आया जहां एक प्रसूता को भर्ती करने के बाद ऑपरेशन के दौरान हुई बच्ची को तो बचा लिया गया लेकिन ऑपरेशन में हीला हवाली बरतें जाने से प्रसूता की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया जिसके बाद उप जिलाधिकारी सदर व पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर ने पहुंचकर मामले की जानकारी हासिल की। जानकारी के अनुसार ललौली थाना क्षेत्र के गड़ियार मजरे कोर्रा कनक गांव निवासी शिव पूजन की 23 वर्षीय पत्नी सोनम देवी को 2 दिनों पूर्व प्रसव पीड़ा हुई थी जिसके बाद परिजनों ने उसे उपचार के लिए बहुआ स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था जहां से नर्स सरोज देवी ने प्रसूता की हालत गंभीर होने की बात कहते हुए उसे शहर क्षेत्र के राधा नगर बहुआ रोड स्थित हैप्पी नर्सिंग होम के नाम से संचालित चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां गैर प्रशिक्षण प्राप्त चिकित्सकों द्वारा मंगलवार की रात उसका ऑपरेशन किया गया ऑपरेशन के दौरान प्रसूता की मौत हो गई लेकिन नवजात बच्ची को बचा लिया गया। मृतका के पति शिवपूजन ने बताया कि उसकी पत्नी की मौत होने के बावजूद संचालक द्वारा उसे कानपुर के लिए रिफर कर दिया गया उसने बताया कि जब वह पत्नी को लेकर कानपुर पहुंचा तो कानपुर के चिकित्सकों ने उसकी पूर्व में ही मौत होने की बात कही जिसके बाद प्रसूता के शव को पुनः हैप्पी नर्सिंग होम ले आया गया जहां परिजनों ने हिला हवाली का आरोप लगाते हुए हंगामा काटना शुरू कर दिया परिजनों द्वारा हंगामा काटे जाने के बाद नर्सिंग होम संचालक नर्सिंग होम में ताला डालकर भाग खड़ा हुआ। नर्सिंग होम संचालक सहित ऑपरेशन करने वाले गैर प्रशिक्षण प्राप्त चिकित्सकों के न मिलने के बाद परिजन सीधे जिले के हाकिम आंजनेय कुमार सिंह की चैखट पर न्याय पाने के उद्देश्य से पहुंचे जहां जिलाधिकारी से मुलाकात कर नर्सिंग होम की शिकायत दर्ज कराई शिकायत के बाद उपजिलाधिकारी सदर प्रेम प्रकाश तिवारी व पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर कपिल देव मिश्रा ने नर्सिंग होम पहुंच मामले की जानकारी हासिल की मृतिका के पति शिव पूजन ने बताया कि नर्सिंग होम संचालक द्वारा उससे ऑपरेशन सहित अन्य खर्चे के नाम पर तीस हजार की मांग की गई थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट