AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 3 अक्तूबर 2018

पानी के संकट से जूझ रहे किसानों ने फसल बचाने के लिए डीएम से मांगा पानी

फतेहपुर, शमशाद खान । पिछले कई वर्षो से नहरों मे पानी न छोड़े जाने और पर्याप्त बारिश भी न होने से एक मात्र सहारा नलकूप किसानों के लिए बचा था लेकिन वह भी विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते जमीन मे धंस गया जिससे अब किसानों के सामने अपनी फसल को बचाने के लिए पानी का संकट खड़ा हो गया है जिसको लेकर पीडित किसानों ने प्रदर्शन करते हुए जिलाधिकारी से समस्या से निदान दिलाये जाने की मांग किया।
बुधवार को बहुआ विकास खण्ड के ग्राम गम्भरी के ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर पानी की समस्या को लेकर प्रदर्शन करते हुए जिलाधिकारी के नाम सम्बोधित ज्ञापन को उपजिलाधिकारी को सौंपते हुए अवगत कराया कि कई बार सम्बन्धित विभाग को सूचित किये जाने के बावजूद विभाग द्वारा कोई कार्यवाही न किये जाने के चलते गांव का नलकूप जमीन मे धंस गया है यदि समय रहते अधिकारी रिबोर कर देते तो शायद आज किसानों के सामने पानी का संकट न होता। साथ ही यह भी अवगत कराया कि कई वर्षो से नहर मे भी पानी नही आता है और जुलाई माह से नहर सूखी पड़ी है। ऊपर से नलकूप के धंस जाने से किसानों के आगे फसल को लेकर संकट पैदा हो गया है। ऐसे मे किसानों को आत्महत्या के अलावा कुछ भी नहीं समझ मे आ रहा है। पीड़ित किसानों का यह भी कहना रहा है कि किसान लोन भी लिए हैं और बेटी के हांथ भी पीले करने हैं इसलिए जिलाधिकारी से गुहार लगाते हैं कि उनकी समस्या का समाधान करने के लिए शीघ्र ही पानी की व्यवस्था की जाये जिससे फसलों को बचाया जा सके। इस मौके पर महेश सिंह, गिरधारी मौर्य, भैरो सिंह, चन्द्रभानु सिंह, सोहावन पासवान, फग्गुन पासवान, निरंजन प्रताप सिंह, तेज बहादुर सिंह आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट