AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 27 अक्तूबर 2018

सुहागिनों ने चाॅद का दिदार कर मांगी पति की दीर्घायु

फतेहपुर, शमशाद खान । सुहागिनो ने शनिवार को करवाचैथ पर्व उत्साह के साथ मनाया। दिन भर करवाचैथ का व्रत रखकर रात में चन्द्र देव के दर्शन कर पति की दीर्घायु मांगी। इसके बाद पति के हांथो पानी पीकर व्रत पूरा किया।
शनिवार को करवा चैथ शुभ कार्तिक मास की रोहिणी नक्षत्र और गणेश चतुर्थी के अद्भुत संयोग के बीच मनाया गया। यानी विघ्नहर्ता मंगलकारी गौरी पुत्र गणेश और भगवान श्रीकृष्ण की कृपा शुहागिनो को मिली। सुहागिनी महिलाओं ने स्नान कर दिन भर निर्जला व्रत धारण किया। फिर सम्पूर्ण शिव परिवार और श्रीकृष्ण की स्थापना की। गणेश जी को पीले फूलो की माला, लड्डू और केले अर्पित किये। भगवान शिव और पार्वती को बेल पत्र और श्रृंगार की वस्तुए अर्पित की। श्रीकृष्ण को माखन मिश्री और पेडे का भोग लगाया। मिट्टी के करवे पर रोली से स्वास्तिक बनाकर उसमें दूध, जल और गुलाब जल मिलाकर रखा। रात मे शुभ मुहुर्त में सुहागिनो ने सोलह श्रृंगार करके चन्द्र देव के दर्शन के लिए और अध्र्य देकर पूजा अर्चना की। गणेश पूजन के साथ करवा चैथ वृत करके अखण्ड शौभाग्य की कामना की। करवाचैथ की कथा कही और सुनी। कथा सुनने के बाद अपने घरो के सभी बडो का चरण स्पर्श कर फिर पति के चरण स्पर्श का आशीर्वाद लिया। जिन सुहागिनो का पहला करवा चैथ था उन पर कुछ खास उत्साह देखने को मिला। वहीं अविवाहित युवतियों ने भी अच्छे वर की कामना को लेकर व्रत रखा और देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना की। चैक बाजार में दिनभर महिलाओं ने चूडी, कंगन, और श्रृंगार के सामानो की खरीदारी की। दुकानो में दिनभर चहल-पहल बनी रही। वस्त्रो की दुकानों में भी महिलाओ ने अपनी-अपनी पसन्द की खरीदारी की। मिट्टी व पीतल के करवा भी खूब बिके। वहीं ब्यूटी पार्लरों में भी सुबह से सुहागिनो की भीड़ रही।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट