AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 23 अक्तूबर 2018

परमहंस योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज ने राम मंदिर निर्माण पर उठाये प्रश्नचिह्न

मध्यप्रदेश, पवन कुमार -  श्री शक्तिपुत्र महाराज जी ने भी राम मंदिर निर्माण पर सरकार व न्यायपालिका पर, अपने तीखे अंदाज मे विरोध किया समाज में दुर्गा चालीसा के माध्यम से समाज में नशामुक्ति का कार्य करने के लिए सुप्रसिद्ध सन्त व भगवती मानव कल्याण संगठन के संस्थापक व चालक परमहंस योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज ने एक बार फिर से अपने तीखे अंदाज में, अपने आश्रम में नवरात्रि पर्व में होने वाले *महाशक्ति सम्मेलन* के तीसरे दिन, राम मंदिर निर्माण पर सरकार व न्यायपालिका की सुस्त  प्रकिया की बात करते हुए, वर्तमान सरकार व न्यायपालिका को राम मंदिर निर्माण के फैसले को सर्वप्रथम मुद्दा रखकर, शीघ्र से शीघ व निरन्तर  सुनवाई करते हुए, राम मंदिर निर्माण पर फैसला देने की बात कही । महाराज श्री ने कहा कि वर्तमान सरकार व पिछली सरकार तथा न्यायपालिका ने दो सम्प्रदायों के तनाव को बढ़ाने का कार्य कर रही है । महाराज श्री ने राम मंदिर निर्माण पर अपने विचार रखते कहा कि -"मै राम मंदिर पर के सकारात्मक व शांतिपूर्ण निर्णय का समर्थन करता हूँ । महाराज श्री के कथनानुसार राम मंदिर निर्माण उसी ज़गह बनना चाहिए जहां पूर्व मे स्थापित था । क्योकि राम मंदिर व राम के वजूद पर कोई भी शंशय नही है । इस मुद्दे पर राम मंदिर निर्माण के पक्ष में अपनी बात रखते हुए, उन्होंने राजनैतिक दलो व न्यायपालिका पर तीखी वाणी से  राम मंदिर निर्माण के फैसले को शीघ्र सुनवाई करने व फैसला देने को कहा, कि इस मुद्दे की वजह से दो धार्मिक विचारधारा व सम्प्रदायों के बीच तनाव कई वर्षों से चल रहा है । जिसके कारण देश में अशांति का माहौल व्याप्त है, जिसे खत्म करने के लिए महाराज श्री ने राममंदिर निर्माण पर शांति पूर्ण समर्थन देने का आश्वासन देते हुए अपनी बात समाप्त की ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट