AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 1 नवंबर 2018

ट्रेड यूनियन संयुक्त मंच द्वारा जिलाधिकारी को ज्ञापन

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता -  केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच के प्रतिनिधी मंडल ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित 12 सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से देते हुए मांग की कि कानपुर में 5-6 वर्षा से श्रम बन्धु की बैठक आयोजित नही की जा रही है, जबकि शासन द्वारा 2010 को कार्यालय ज्ञाप जारी कर प्रदेश के प्रशासनिक अधिकारियेां को निर्देशित किया गया था कि श्रमिकों की समस्याओं के निस्तारण हेतु जिला स्तर पर श्रम महासंघो, यूनियनों की समितियां गठित की जाये।
           इस दौरान पीएस बाजपेयी ने कहा कि कुछ वर्षो तक श्रम बन्धु की बैठक आयोजित की गयी, लेकिन प्रशासन द्वारा श्रमिकों की समस्याओं का समाधान न करते हुए उधोग बन्धुओं की बैठकों के द्वारा पूंजीपतियों की समस्याओं को प्राथमिकता दी जा रही ह, जिससे मजदूरों में आक्रोश है। मांग की गयी कि गंगा प्रदूषण के नाम पर चमडा उधोग के प्रतिष्ठानो को बंद कर दिया जाता है, जिससे हजारो मजदूर बेरोजगार होकर भुखमरी के शिकार हो जाते है। कहा प्रतिष्ठानों की बंदी अवधि का संपूर्ण वेतन भुगतान सुनिश्चित किया जाये साथ ही कानपुर नगर के उधोगों में मजदूरों को जो शोषण किया जा रहा है उसे श्रम कानूनों के अंतर्गत प्राप्त होने वाले हितलाभो से भी वंचित रखा जा रहा है। इस सम्बन्ध में शीघ्र कोई ठोस कदम उठाया जाये अन्यथा मजदूर अपनी मांगों को लेकर सडकों पर आंदोलन छेडेंगे, जिसकी शुरूआत दीपावली के बाद मजदूरों को संगठित कर जागरूकता अभियान से की जायेगी। इस अवसर पर पीएस बापजेयी, उमेश शुक्ला, आरपी कनौजिया, असित कुमार सिंह, कुलदीप सक्सेना, अरविन्द कुमार, राम प्रकाश राय, हरी सिंह, राणा प्रताप सिंह, बालेन्द्र कटियार, राजेश बाजपेयी, राजेश शुक्ला, ओम प्रकार, राम भरोसे, मो0 नाजिर आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट