AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 24 नवंबर 2018

ठण्ड से राहत देने लिये फुटपाथ के गरीबो को जल्द होगा कम्बल वितरण-तबरेज

फतेहपुर, शमशाद खान । फुटपाथ पर सोने वाले गरीबो को ठण्ड से बचाने के लिये जल्द ही उन्हें चिन्हित कर कम्बल कम्बल देने की मुहीम शुरू की जायेगी। उक्त बातें समाजसेवी तबरेज वारसी टीलु से पत्रकारों से रुबरु होते हुए कही।
शनिवार को पीरनपुर स्थित कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए समाजसेवी तबरेज वारसी टीलू ने बताया कि सर्दियों का मौसम शुरू होने के बाद भीषण ठंड में गरीबों के लिए रात बिताना एक चुनौती की तरह है जिस से बचने के लिए उनके पास कोई सहारा नहीं होता ऐसे लोगों को वह वह उनके सहयोगियो द्वारा चिन्हित किया जाएगा और उनमें कंबल बांटने का काम किया जाएगा। श्री टीलू ने बताया कि विगत कई वर्षों से उनके द्वारा कंबल वितरण करने का काम किया जा रहा है जिस के क्रम में उनके सहयोगियों द्वारा टीमें बनाकर घर-घर जाकर गरीबों को चिन्हित करने का काम किया जा रहा है साथ ही रेलवे स्टेशन,बस स्टॉप, प्रमुख चैराहों समेत अन्य जगहों पर रात गुजारने वाले गरीबों को भी चिन्हित कर जल्द ही उनमें कंबल बांटने का काम किया जाएगा।  उन्होंने बताया कि पूर्व में उनके द्वारा स्वास्थ शिविर के माध्यम से गरीबों,कमजोरो और असहायो का स्वास्थ परीक्षण कर उनमें दवा वितरण कराने का काम किया गया था तो वहीँ आई कैम्प  लगवाकर गरीबो की आँखों की रौशनी लौटाने का काम किया गया है। सभी धर्मों के त्योहारों के अवसर पर उनके द्वारा गरीबो में कपडे व बच्चों को उपहार स्वरूप कपडे व खिलौने दिये गए है। सर्दियों के मौसम में फुटपाथ पर जीवन यापन करने वाले कमजोर,असहायो,गरीबों, वृद्धों और भीख मांग कर जीवन यापन करने वालो की पहचान कर उन्हें कंबल एवं गर्म कपड़े वितरित कर ठंड से बचाने के उपाय किए जाएंगे उन्होंने कहा कि समाजसेवा ही उनके लिये सब कुछ है। बिना किसी राजनीतिक स्वार्थ के चलते विगत कई वर्षों से वह लगातार समाज की सेवा करते चले आ रहे हैं और आगे भी इसी तरह का कार्य उनके द्वारा किया जाता रहेगा। उन्होंने कहा कि समाज के दबे कुचले वर्गों की सेवा करने से उन्हें दुआएं तो मिलती ही हैं साथ ही उनके मन को आत्म संतुष्टि मिलती है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट