AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 9 नवंबर 2018

कांग्रेसियों ने पीएम का पुतला फूंक नोटबंदी की मनायी बरसी

फतेहपुर, शमशाद खान । मोदी सरकार द्वारा की लागू गयी नोटबन्दी के दो वर्ष पुरे होने पर शहर कांग्रेस अध्यक्ष मो आरिफ गुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने माथे पर काली पट्टी बांधकर नोटबन्दी की बरसी मनाते हुए प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंककर विरोध प्रदर्शन किया। शुक्रवार को शहर के जवालागंज बस स्टॉप स्थित चैराहा पर शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष मो आरिफ गुड्डा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओ ने नोटबन्दी की बरसी मानते हुए जमकर नारेबाजी व धरना प्रदर्शन कर प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक कर नोटबन्दी पर अपना विरोध दर्ज कराया। धरने को संबोधित करते हुए शहर कांग्रेस अध्यक्ष मोहम्मद आरिफ गुड्डा ने कहा की प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी द्वारा जनता की बिना राय जाने एकतरफा नोटबन्दी के किये गए निर्णय से देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गयी है तो वहीँ छोटे मंझोले उद्योग बन्द होने की कगार पर आ गए है। जिससे बड़े पैमाने पर लोग बेरोजगार हो गए है।। सरकार छोटे व्यापारियों का उत्पीड़न कर बड़े बड़े उद्योगपतियो को लाभ दिलाने का कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ने काला धन वापस लाने के नाम पर जनता को गुमराह करने का काम किया है। नोटबन्दी के जो फायदे देश की जनता को बताये गए थे वह सभी वादे खोखले साबित हुए है। नोटबन्दी में कालाधन तो नही वापस आ सका जबकि सरकार को नए नोट छापने में 7965 करोड़ का खर्च आया है जोकि देश की अर्थव्यवस्था पर अतिरिक्त भार पड़ा है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक चुनाव में जनता ने भाजपा को नकार कर सबक सिखाने का काम किया है ठीक उसी तरह लोकसभा 2019 के चुनाव में जनता से किये गए झूठे वादों पर देश की जनता भाजपा को सबक सिखाने का काम करेगी। वहीँ कार्यकर्ताओ द्वारा नोटबन्दी के दौरान मरने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इस मौके पर महेश द्विवेदी, कैलाश द्विवेदी, औसाफ अहमद, अमित मिश्रा नीटू, शाहाब अली, श्रवण कुमार गौड़, अरुण जायसवाल, आदित्य श्रीवास्तव,चैधरी मोईन राइन, अखिलेश तिवारी, हरिओम शुक्ला, बृजेश मिश्रा, रेहान कुरैशी आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट