AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 27 नवंबर 2018

ठेकेदारों की मनमानी के चलते सरकारी इमारत बन गयी जर्जर

हसवा, फतेहपुर, शमशाद खान । ठेकेदारों की मनमानी के चलते बरातघर अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। पूरी तरीके जर्जर हालत मे तब्दील बरातघर मे जनवासा भी नहीं ठहरता। हसवा विकास खण्ड के हाशिमपुर भेदपुर के मजरे रामपुर भदौइया गांव मे बरात घर इतना जर्जर हो गया है कि गांव के लोग बरातघर मे जनवासा ठहराने मे भी ठरते हैं क्योंकि ठेकेदारों के मनमानी के चलते मानक के विपरीत बने बरातघर पूरी तरह से जर्जर हो गया है। कमरों की फर्श टूट गयी है जिसमे जीव जन्तुओं का खतरा हमेशा बना रहता है गांव के विक्रम सिंह, बबलू, पप्पू, कमलेश लोधी, राजू आदि लोगों का कहना है कि जब बरातघर बना था तो कुछ ही दिनों मे फर्श टूटने लगी थी जर्जर हालत मे गांव के बरातघर मे बरातियों को ठहराते नही हैं क्योंकि कई बार विषैले सांप एवं बिच्छू निकल आते थे। खास वजह यह है कि जब संगीत की धुन पर ही कीड़े मकोड़े निकल आते हैं बरातघर मे बने शौचालय मे दरवाजे उखड़ गये हैं जिससे बरातियों को शौचक्रिया जा पाने के लिए इधर उधर भटकना पड़ता है ऐसी स्थिति मे लोग गांव के बाहर जनवासे की व्यवस्था करने को मजबूर हैं। सरकारी धन से बनी इमारत कुछ ही वर्षों मे टूटकर बदहाल हो गयी है जो बड़े पैमाने पर ठेकेदारों द्वारा भ्रष्टाचार करके मानक के विपरीत मटेरियल का उपयोग कर बिल्डिंग तो खड़ी कर दी गयी जो आज पूरी तरीके से जर्जर हो चुकी है और बरातघर अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट