AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 28 दिसंबर 2018

सर्द हवाओं के कहर से घरों में दुबके लोग

फतेहपुर, शमशाद खान । पहाड़ी इलाको में लगतार हो रही बर्फबारी और दिनोदिन मौसम के बदलते तेवर के कारण ठण्ड का प्रकोप बढ़ना जारी है। बर्फीली हवाओ से गलन व ठिठुरन बढ़ने से आम जनमानस बेहाल हो रहा है। रात्रि के समय तापमान का न्यूनतम स्तर और दिन में शीतलहर चलने के कारण कड़ाके की ठण्ड ने लोगो को घरों में दुबकने पर मजबूर कर दिया है। रोजमर्रा के कामकाज से सुबह जल्दी दफ्तरों के लिये निकलने वाले एवं स्कूल जाने वाले छोटे बच्चों को सबसे भीषण समस्याओ का सामना करना पड़ रहा तो वहीँ शीतलहर का प्रकोप सड़कों पर जीवन यापन करने वालो को भी भुगतना पड़ रहा है। घरों के अन्दर ठण्ड से बचने के लिये लोग जहाँ गर्म कपड़ो,कम्बल, रजाई,रूम हीटर व कोयले की आग का सहारा ले रहे है तो घरों से बाहर निकलने वाले लोग का सहारा स्वेटर जैकेट,कैप बन रहा है। सबसे अधिक समस्या दूर दराज की यात्रा करने वाले या फुटपाथ पर खुले में रात्रि बिताने को मजबूर निराश्रितों के लिये है। जिनके पास ठण्ड से बचने के लिये पर्याप्त संसाधन नही है ऐसे लोगो का सड़क किनारे जल रहे अलाव सहारा बन रहे है। गरीबो के पास सर्दी से बचने के सीमित चीजे होने और पर्याप्त संख्या में अलाव के न होने से गरीब ठण्ड में ठिठुरने को मजबूर है।  वहीँ मौसम विभाग द्वारा लोगो को केवल जरूरत पर ही घरों से बाहर निकलने की सलाह दी गयी है। मौसम के बिगड़ते मिजाज को देखकर और सर्द हवाओं के जारी रहने से आगामी माह में गलन और ठिठुरन से राहत मिलती नजर नही आ रही।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट