AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 3 दिसंबर 2018

व्यापारियों ने प्रतिष्ठान बंदकर अतिक्रमण अभियान के विरोध मे उतरे सड़कों पर

फतेहपुर शमशाद खान ।  जिला प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे अतिक्रमण विरोधी अभियान चैक बाजार का नम्बर आते ही व्यापारी एकजुट होकर प्रशासन से आरपार करने के मूड मे आ गया है जिसके तहत चैक के व्यापारियों ने अतिक्रमण के मानक को लेकर अपने-अपने प्रतिष्ठान बंद कर सड़कों पर उतरकर विरोध करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां जमकर नारेबाजी कर मुख्यमंत्री को मांगपत्र भेजा।
शहर के डेढ़ सौ पुरानी चैक बाजार के अस्तित्व मे संकट आया तो व्यापारी सड़क पर उतर आये और प्रशासन के दस मीटर के मानक को नकारते हुए व्यापारियों ने नाली तक के अतिक्रमण व छज्जा के अलावा एक इंच भी तोड़-फोड़ करने देने का निर्णय लेते हुए सोमवार को बड़ी संख्या मे व्यापारियों ने एकराय होकर अपने-अपने प्रतिष्ठान बंदकर प्रशासन के विरोध मे सड़कों पर उतरकर कलेक्ट्रेट पहंुचे जहां जिलाधिकारी से मुलाकात न होने पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर तोड़-फोड़ अभियान पर रोक लगाये जाने की मांग किया। साथ ही व्यापारियांे ने यह भी चेतावनी दी कि अगर उनकी मांगें न मानी गयी तो चैक के व्यापारी अनिश्चितकालीन बंदी कर रामलीला मैदान से मंगलवार को जुलूस निकालकर शहर के मार्गों से होते हुए लखनऊ के लिए कूच करेगें जहां मुख्यमंत्री से मिलकर प्रशासन के मानक के हिसाब से तोड़-फोड़ न किये जाने की मांग करेगें। व्यापारियों का कहना रहा कि चैक बाजार बचाने के लिए उन्हें चाहे जो भी करना पड़े वह करेगंे लेकिन नाली के अलावा एक भी फिट तोड़-फोड़ नही करने देेगें। व्यापारियों ने कहा कि चैक बाजार डेढ सौ साल पुरानी है। नाली तक का तो हो सकता है इसके अलावा जो भी दुकानें व इमारतें उनकी निजी जमीन मे है। कहा कि प्रशासन की दस मीटर के मानक चैक के आधे व्यापारियांे के प्रतिष्ठान अतिक्रमण के भेंट चढ़ जायेगें जिसे किसी कीमत पर बर्दास्त नही किया जायेगा। इस मौके पर व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष रवि दुबे, कुलदीप रस्तोगी, ब्रजेश सोनी, विनोद गुप्ता, गुड्डू मोदनवाल, रवि रस्तोगी, राधेश्याम हरायण, रामप्रकाश गुप्ता, सत्य भगवान, मो0 समीम आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट