AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 10 जनवरी 2019

पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया से मिल सकता है शिवपाल को फायदा

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता -  समाजवादी पार्टी में अपने साथ हुए व्यवहार के बाद पूर्व मंत्री तथा मुख्यमंत्री मुुलायम सिंह यादव के कभी खास रहे शिव कुमार बेरिया ने अब प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया में शामिल हो गये है। अखिलेश यादव द्वारा अचानक पार्टी के निकाले जाने के बाद उन्हे जोरदार धक्का पहुंचा था, जिसके बारे में शिवकुमार बेरिया ने भी कहा कि उन्हे पार्टी से अलग क्यों किया गया, इसका उन्हे आज तक जवाब नही मिल सका है। फिलहाल शिव कुमार बेरिया अब शिवपाल के पाले में आ चुके है और माना जा रहा है कि वह प्रगतिशील समाजवादी र्पाअी में अनुसूचित जाति का बडा चेहरा होगे।
           दूसरी तरफ कुछ राजनैतिज्ञो की माने तो उनका मानना है कि शिवकुमार समाजवादी पार्टी के पुराने और विश्वसनीय नेता रहे है साथ ही पूर्व मुख्यंमत्री मुलायम सिंह यादव के भी खास रहे है और उन्हे सपा सरकार में मंत्री बनाया गया था। यह तो पहले से ही अंदाला लगाया जा रहा था कि सपा से निकले के बाद शिव कुमार बेरिया शिवपाल के साथ जा सकते है और ऐसा हुआ भी, दूसरी तरफ शिपाल सिंह भी एक ऐसे ही नेता की तलाश कर रहे थे जो उनकी पार्टी के लिए एक बडा चेहरा बनकर उभरे और शिवकुमार बेरिया के रूप में उन्हे अनुसूचित जाति के लिए बडा चेहरा मिल गया। पूर्व सपा सरकार में शिवकुमार बेरिया रेशम एवं वस्त्रोधोग मंत्री थे और उनका कानपुर देहात के साथ आसपास के जिलों में अनुसचित जाति के मतदाताओं पर खासी पकड भी है। ऐसे में प्रगतिशील पार्टी में शिवकुमार बेरिया का शामिल होना जहां पार्टी के लिए फायदेमंद है वहीं कहीं न कहीं सपा को इसका नुकसान उठाना पड रहा है। चूंकि बेरिया बिल्हौर विधानसभा सीट से विधायक रह चुके है और यह सीट मिश्रिख लोकसभा क्षेत्र में आती है जो कि अनुसूचित जाति के लए आरक्षित है। ऐसे में शिवकुमार बेरिया इस लोकसभा सीट से प्रगतिशील पार्टी के प्रत्याशी हो सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट