AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

गुरुवार, 28 फ़रवरी 2019

विज्ञान प्रदर्शनी में जूनियर विद्यालयो के बच्चों ने दिखाई प्रतिभा

फतेहपुर, शमशाद खान । शिक्षा के क्षेत्र में राजकीय स्कूली शिक्षा को बढ़ावा व प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर बच्चों की प्रतिभा को निखारने का काम किया जा रहा है। गुरूवार को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय अविष्कार अभियान के तहत खेलदार मोहल्ला स्थित महात्मा गांधी जूनियर हाईस्कूल में जनपद स्तरीय गणित एवं विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जिसमे जनपद के जूनियर स्तर के राजकीय विद्यालयो के छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग करते हुए अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया।
विज्ञान प्रदर्शनी में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्य विकास अधिकारी चांदनी सिंह ने शिरकत करते हुए प्रदर्शित मॉडलों का अवलोकन करने के साथ ही मेधावी छात्र छात्राओं को नगद पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि मुख्य विकास अधिकारी चाँदनी सिंह ने फीता काटकर व दीप प्रज्ज्वलित कर किया। छात्राओं द्वारा स्वागत गीत व रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर अतिथि का स्वागत किया गया। तत्पश्चात मुख्य अतिथि मुख्य विकास अधिकारी द्वारा प्रदर्शनी का अवलोकन किया गया। जूनियर स्तर के बच्चों द्वारा विज्ञान एवं गणित विषय पर आधारित तरह-तरह के मॉडल बनाए गए थे। जिसमें स्वच्छ भारत अभियान, प्रदूषण रहित वातावरण, कम लागत पर बिजली का उत्पादन, सौर ऊर्जा आधारित बिजली, कूड़ा प्रबंधन समेत अनेक विषयों के मॉडलों का प्रदर्शन किया गया था। जिसका मुख्य अतिथि द्वारा अवलोकन कर छात्र छात्राओं से मॉडलों के बाबत जानकारी लेते हुए उनका उत्साहवर्धन किया गया। मॉडलों को बनाने वाले छात्र-छात्राओं को प्रथम पुरस्कार में पांच हजार रुपये नगद, प्रशस्ति पत्र, द्वितीय पुरस्कार में तीन हजार रुपये नगद व प्रशस्ति पत्र, तृतीय पुरस्कार में दो हजार रुपये नगद व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। सांत्वना पुरस्कार के रूप में सभी मॉडलों को प्रस्तुत करने वाले सभी छात्र-छात्राओं को एक एक हजार रुपये नगद व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करते कर उन्हें इसी तरह आगे बढ़ने की प्रेरणा दी। छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सीडीओ चांदनी सिंह कहा कि जूनियर स्तर तक के छात्र-छात्राओं द्वारा विज्ञान एवं गणित विषय पर मॉडल प्रस्तुत करना बेसिक शिक्षा विभाग की बड़ी कामयाबी को दर्शाता है। शिक्षा का स्तर सुधारने से ही समाज में तरक्की हो सकती है। बच्चों के भीतर छिपी हुई प्रतिभाओं को निखारने के लिए शिक्षक मार्गदर्शक की भूमिका निभाते हुए उन्हें आगे बढ़ने की के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म देने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर बच्चा अपने आप में खास होता है। उसके अंदर छुपी हुई प्रतिभा को पहचान कर एवं उसे तलाश कर हीरा बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भारत में सीवी रमन से लेकर एपीजे अब्दुल कलाम सरीखे वैज्ञानिकों की कोई कमी नहीं है। बस जरूरत ऐसे वैज्ञानिकों को बाल अवस्था से पहचान कर उन्हें सही मंच उपलब्ध कराए जाने की आवश्यकता है। कार्यक्रम का संचालन एबीआरसी असोथर अनुराग मिश्रा द्वारा किया। इस मौके पर कार्यक्रम आयोजक बेसिक शिक्षा अधिकारी शिवेंद्र प्रताप सिंह, सीमा सचान, मनीषा द्विवेदी, मंजूश्री पाण्डेय, सीरजा, प्रणवीर सिंह, शिनेश, ममता, प्रीती समेत विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाएं आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट