AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 13 फ़रवरी 2019

मूलभूत सुविधाओं से वंचित रामपुर खुराना के बाशिन्दों ने कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

फतेहपुर, शमशाद खान । नगर पालिका परिषद के वार्ड नं0 8 झाऊपुर के ग्राम चैधकियापुर मौजा रामपुर खुराना में आजादी के बाद से अब तक मूलभूत सुविधाआंे के बिना जीवन जी रहे बाशिन्दों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। बाशिन्दों ने बताया कि गांव में विद्युत, पेयजल व सड़क की विकराल समस्या खड़ी है। नगर पालिका के अन्तर्गत वार्ड आता है। इसके बावजूद आज तक जनप्रतिनिधियों द्वारा कोई विकास कार्य नहीं कराया गया। जबकि सबसे अधिक राजस्व की अदायगी करने के बावजूद बाशिन्दे बदहाली की जिन्दगी जीने को विवश हैं। कई बार कलेक्ट्रेट आकर अधिकारियों को समस्या से अवगत भी कराया। लेकिन आज तक कोई भी विकास कार्य नहीं कराया गया। आज भी अधिकारियों के न मिलने के कारण बाशिन्दे मायूस होकर लौट गये। 
वार्ड नं0 8 झाऊपुर के ग्राम चैधकियापुर मौजा रामपुर खुराना के छात्र अपने-अपने परिजनों के साथ कलेक्ट्रेट आये और अपने वार्ड की समस्या को लेकर प्रदर्शन किया। तत्पश्चात बताया कि इस वार्ड का विकास कार्य आज तक नहीं कराया गया। जबकि बाशिन्दे करोड़ों रूपये का राजस्व प्रतिवर्ष देते हैं। क्योंकि कृषि भूमि विक्रय से सबसे अधिक राजस्व की अदायगी की जाती है। इसके बावजूद यह वार्ड सबसे अधिक पिछड़ा है। बताया कि ग्राम सभा में नगर पालिका का कोई भी सम्पर्क नहीं नहीं है। जिसके कारण छात्रों को स्कूल जाने में कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। गांव में पेयजल की भी विकराल समस्या है। लोगों को दूर-दूर लगे हैण्डपम्पों व नलकूपों का सहारा लेना पड़ता है। विद्युत न होने की वजह से छात्रों की पढ़ाई पर भी असर पड़ रहा है। रात में बच्चे दीपक व मोमबत्ती के सहारे ही अपने पढ़ाई करने के लिए विवश हैं। इसके अलावा अन्य कई ज्वलंत समस्याएं भी ग्राम सभा में मुंह बाये खड़ी हैं। गांव में सम्पर्क मार्ग, पेयजल एवं विद्युतीकरण आदि समस्याओं का निस्तारण किया जाना बेहद जरूरी है। बाशिन्दों ने बताया कि इन सभी मूलभूत समस्याओं को लेकर छात्रों ने कई बार कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर अपनी आवाज बुलन्द की थी। तत्कालीन जिलाधिकारी द्वारा विकास कार्य कराये जाने का आश्वासन भी दिया गया था। लेकिन आज तक विकास की एक ईंट भी गांव में नहीं रखी गयी है। छात्रों ने एक बार फिर से गांव में पेयजल, विद्युत व सड़क की गम्भीर समस्या को दूर किये जाने की आवाज उठायी। लेकिन आज भी कलेक्ट्रेट में इन बाशिन्दों को कोई भी अधिकारी नहीं मिला। जिसे वह अपनी समस्या बता सकें। इस पर सभी मायूस होकर वापस अपने गांव लौट गये। इस मौके पर सोहनलाल, मयंक, सचिन कुमार, प्रदीप कुमार, हिमांशू कुमार, शालिनी कुमारी, अंशू कुमारी, कोमल कुमारी, चन्द्रकला, अमित गौतम, संदीप आशिक लाल, मोनू कुमार, शंकर, राम कुमार, अंकित कुमार, इंदल सिंह, प्रशांत सिंह, नीरज कुमार, राहुल, हिमांशु कुमार, विकास, राजेश कुमार, जय सिंह, सुन्दरलाल, रामू, अशोक, होरीलाल, धर्मराज, शंभू आदि मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट