AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

बुधवार, 13 फ़रवरी 2019

पीडित बैठा मण्डलायुक्त कार्यालय के बाहर धरने पर

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता -  भ्रष्टाचार पर जिले के सभी प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा कई बार शिकायत करने पर भी कोई कार्यवाही न होने से क्षुब्ध जीतेन्द्र कुमार श्रीवास्तव जो डीबीएस महाविधालय में लेखाकार पद पर है वह मण्डलायुक्त कार्यालय के बाहर अकेले ही धरने पर बैठ गये। उन्होने बताया महाविधालय के बरसर सुनील श्रीवास्तव ने पूर्व प्रचार्यो के साथ मिलकर फर्जी बिल बाउचर के जिरिए करोडों रू0 कागबन किया, जो पैसा छात्र छात्राओं के हित में खर्च होना चाहिये उसको दोनो ने मिलकर अपने हित में खर्च किया।
          जीतेन्द्र ने बताया पूरे प्रकरण की शिकायत लोकायुक्त, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, जिलाध्यिाकारी, मण्उलायुक्त, क्षेत्रीय उच्च शिक्षाधिकारी, कुलपति विश्वविधालय, निदेशक उच्च शिक्षा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, प्रचार्य डीबीएस महाविधालय से लगातार करता आ रहा है लेकिन आज तक कोई जाचं नही हुई सब अपनी आंख बंद किये हुए है। बताया क्षेत्रीय उच्च श्क्षिाधिकारी ने तो पोर्टल पर बिना जांच किये केवल जांच के लिए लिखकर फर्जी निसतारण कर दिया, एक जांच क्षेत्रीय उच्च शिक्षाधिकारी को मिली, उन्होने निदेशक उच्च शिक्षा प्रयागराज को जांच के लिए खिला। फिर निदेशक उच्च शिक्षा को जांच मिली तो वापस उन्होने जांच खेत्रीय उच्च शिक्षाधिकारी को लिखकर अपना पल्ला झाड लिया। कहा किसी भी अधिकारी ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर उच्च अधिकारियों से आदेश मिलने पर भी कोई कार्यवाही नही की। साथ ही अब प्रार्थी को जानमाल व नौकरी से बर्खास्त करने की धमकी दी जा रही है। कहा योगी सरकार में ऐसी व्यवस्था कभी नही देखी, कोई भी अधिकारी किसी की नही सुनता, कहा जब अधिकारी मुख्यमंत्री की नही सुनते तो आम लोगों की क्या सुनेगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट