AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 5 मार्च 2019

राष्ट्रकवि पं0 सोहनलाल द्विवेदी की मनाई जयन्ती

फतेहपुर, शमशाद खान । राष्ट्रकवि पं0 सोहनलाल द्विवेदी की जयन्ती के अवसर पर शहर के वर्मा चैराहा स्थित द्विवेदी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। तत्पश्चात उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला गया। उपस्थित लोगों ने राष्ट्र वंदना का गायन भी किया। 
भाजपा जिलाध्यक्ष प्रमोद द्विवेदी ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया और माल्यार्पण किया। पूर्व विधायक प्रेमदत्त तिवारी एवं नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष अजय अवस्थी ने प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर उनकी बहुचर्चित राष्ट्र वंदना का गायन भी किया ''वंदना की इन स्वरों में एक स्वर मेला मिला लो, हो जहां बलि शीश अगणित एक सिर मेरा मिला लो।'' गोष्ठी में बताया गया कि उनकी सर्जना के बिन्दु देश प्रेम और चरित्र निर्माण ही रहे। वे पूरे भारत के जनता जनार्दन ने उन्हें राष्ट्रकवि की उपाधि दी। वे अभिमानी नहीं स्वाभिमानी थे। वे पत्रकार भी थे लखनऊ से अधिकार समाचार पत्र आजादी की लड़ाई में कई वर्षों तक निकाला। बालसखा बच्चों की पत्रिका का सम्पादन भी किया। इस अवसर पर आचार्य विष्णु शुक्ल, पं0 चन्द्र कुमार पाण्डेय, सुधाकर अवस्थी, राजेश तिवारी, अविनाश तिवारी, रमेश चन्द्र मिश्रा, राजेश चन्द्र मिश्रा, पं0 रामस्वरूप द्विवेदी, देवेन्द्र सिंह गौतम, अरूण कुमार शुक्ला, दिवाकर अवस्थी सहित तमाम लोग मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट