AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शुक्रवार, 8 मार्च 2019

विकास छोड़ जूता स्ट्राइक में जुटे भाजपा नेता - विशंभर निषाद

फतेहपुर, शमशाद खान । समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं सांसद विशंभर प्रसाद निषाद ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सत्ता के नशे में बौखला गयी है। भाजपा नेता अब विकास छोड़ जूता स्ट्राइक में जुट गये हैं। भाजपा ने चुनावी घोषणा पत्र में किये गये एक भी वादे को पूरा करने का काम नहीं किया है। काला धन देश में वापस लाने का मुद्दा लेकर सत्ता में आयी भाजपा के शासनकाल में 3200 उद्योगपति देश का ही पैसा लूटकर भाग निकले हैं। ऐसी निकम्मी सरकार को लोकसभा चुनाव में जनता सबक सिखाने का काम करेगी। बीजेपी का देश से सफाया हो जायेगा। 
शुक्रवार को अपने एक निजी कार्यक्रम में आये समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं सांसद विशंभर प्रसाद निषाद ने उक्त बातें वर्मा चैराहे के समीप स्थित एक होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होने कहा कि सपा व बसपा के महागठबंधन से भारतीय जनता पार्टी घबरा गयी है। उन्होने कहा कि पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की रैली से घबराकर भाजपा सीबीआई व ईडी से डराने का काम कर रही है। उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान जारी किये घोषणा पत्र के एक भी वादे को पूरा करने का काम नहीं किया है। जबकि भाजपा ने विकास का नारा देकर देश से भ्रष्टाचार समाप्त करने व देश में काला धन वापस लाने का वादा किया था। इसके उलट भाजपा शासनकाल में देश के 3200 उद्योगपति ही देश का पैसा लूटकर भाग निकले हैं। उन्होने कहा कि संसद की बिना मंजूरी के ही सरकार ने आरबीआई के रिजर्व फंड का पैसा इस्तेमाल करने का काम किया है। जबकि यह फंड देश में आर्थिक संकट पैदा होने पर ही प्रयोग में लाया जाता है। वर्तमान में देश आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार ने पांच वर्षों के कार्यकाल में गरीबों, किसानों व छात्रों के लिए कोई योजनाएं नहीं दी। जीएसटी व नोटबंदी से किसान व युवा गुस्से में है। बड़ी संख्या में लोगों का रोजगार छिन गया है। उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में विकास तो नहीं हुआ लेकिन भाजपा नेता अब जूता स्ट्राइक पर उतर आये हैं। इसका प्रमुख कारण यह है कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों के पास अब जनता के बीच जाने का कोई मुद्दा नहीं बचा है। गठबंधन के सवाल पर उन्होने कहा कि चुनाव के बाद ही महागठबंधन पीएम उम्मदीवार घोषित करेगा। महागठबंधन में कांग्रेस पार्टी शामिल हो सकती है जिसे दोनों पार्टियों का शीर्ष नेतृत्व ही तय करेगा। पत्रकारों द्वारा शिवपाल यादव पर पूछे गये सवाल पर वह जवाब देने से बचते नजर आये। उन्होने कहा कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की ऐतिहासिक जीत होगी और भाजपा का सफाया हो जायेगा। इस मौके पर महेन्द्र सिंह यादव, वीरेन्द्र सिंह यादव मौजूद रहे।   

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट