AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

रविवार, 10 मार्च 2019

शिक्षकों के धरना देने से मूल्यांकन कार्य नहीं पकड़ पा रहा रफ्तार

फतेहपुर, शमशाद खान । माध्यमिक शिक्षा परिषद की दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन कार्य के तीसरे दिन बोर्ड द्वारा निर्धारित तीनों मूल्यांकन केंद्रो पर शिक्षकों के बहिष्कार एवं धरना देने के कारण मूल्यांकन का कार्य रफ्तार नहीं पकड़ सका। मूल्यांकन केंद्रों में कापियों के जांचने का कार्य धीमी गति के साथ तीसरे दिन भी जारी रहा। शिक्षकों द्वारा बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों की कॉपी जांची गई। 
बताते चलें कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के एक गुट ने अपनी मांगों को लेकर मूल्यांकन का कार्य बहिष्कार कर रखा है। जिसके कारण अभी भी बड़ी संख्या में शिक्षक मूल्यांकन कार्य से विरत रहे। जिले में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन के लिए तीन केंद्र बनाए गए हैं जिसमें रेल बाजार इंटर कॉलेज,राजकीय बालिका इंटर कॉलेज एवं राजकीय इंटर कॉलेज में मूल्यांकन का कार्य किया जा रहा है। शिक्षक संगठनों के मूल्यांकन बहिष्कार के कारण बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिका को जांचने का काम अभी भी रफ्तार नहीं पकड़ सका है हालांकि शिक्षकों के एक गुट द्वारा मूल्यांकन कार्य से विरत रहने की घोषणा का कोई खास असर होते हुए नहीं दिख रहा है लेकिन शिक्षकों द्वारा संगठन से जुड़े होने के कारण कार्य से विरत रहने के कारण बोर्ड परीक्षा की कॉपियों को को जांचने का काम कच्छप गति से ही चल रहा है। ऐसे में माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा निर्धारित समय में रिजल्ट दिया जाना कैसे संभव हो सकेगा अधिकांश परीक्षार्थियों द्वारा बोर्ड की परीक्षा देने के बाद आगे की शिक्षा के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं की प्रवेश परीक्षा दी जाती है और प्रवेश से पहले रिजल्ट का दिखाना जरूरी होता है ऐसे में यदि बोर्ड का रिजल्ट लेट होता है तो परीक्षार्थियों के सामने आगे के भविष्य का संकट गहरा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट