AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

मंगलवार, 16 अप्रैल 2019

सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशी समेत चार ने कराया नामांकन

फतेहपुर, शमशाद खान । लोकसभा चुनाव के लिए पांचवे चरण के तहत चल रही नामांकन प्रक्रिया के पांचवे दिन सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सुखदेव प्रसाद वर्मा समेत चार प्रत्याशियों ने अपना-अपना नामांकन पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी संजीव सिंह के समक्ष दाखिल किया। सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिकोण से कलेक्ट्रेट परिसर छावनी में तब्दील रहा। सभी वाहनों को निर्धारित पार्किंग स्थल पर ही खड़ा करवाया गया। 
पांचवे दिन नामांकन को लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी संजीव सिंह के दिशा-निर्देशन में कलेक्ट्रेट परिसर छावनी में तब्दील रहा। सभी मुख्य द्वारों पर की गयी बैरीकेटिंग में पुलिस व पीएसी के जवान मुस्तैद रहे। निर्धारित पार्किंग स्थलों पर ही वाहनों को खड़ा करने की व्यवस्था करवायी गयी। पांचवे दिन सिर्फ चार प्रत्याशियों द्वारा ही नामांकन पत्र दाखिल किये गये। जिसमें सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सुखदेव प्रसाद वर्मा ने अपने प्रस्तावक सपा जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह यादव, बसपा जिलाध्यक्ष अभिषेक प्रताप सिंह, पूर्व मंत्री अयोध्या प्रसाद पाल व बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील गौतम के साथ जिला मजिस्ट्रेट कक्ष पहुंचकर जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। वहीं भारत प्रभात पार्टी के उम्मीदवार जुबेर अहमद, मानव क्रान्ति पार्टी से विनोद कुमार दिवाकर, आदर्श लोकदल से ओम प्रकाश कश्यप ने भी अपने-अपने प्रस्तावकों संग जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष अपना-अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन कर बाहर आये सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सुखदेव प्रसाद वर्मा ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि साम्प्रदायिक ताकतों को हराने के लिए ही सपा व बसपा एक प्लेटफार्म पर आये हैं। उन्हें उम्मीद है कि जिले की जनता उनके पक्ष में मतदान कर विजयी बनायेगी। उन्होने कहा कि भाजपा का झूठ सबके सामने आ चुका हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में विकास के सभी रास्ते बंद कर दिये हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी जैसी मूलभूत समस्याओं से देशवासी जूझ रहे हैं। वहीं पीएम के कुछ करीबी देश को लूट रहे हैं। उन्होने कहा कि जनता इसका हिसाब छह मई को अवश्य लेगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट